संविदा शिक्षकों की भर्ती परीक्षा में शरीक होंगे 17 लाख लोग

भोपाल,14 नवम्बर.नभासं. संविदा शिक्षकों की भर्ती के लिए राज्य में पहली दफे करीब 17 लाख लोग एक साथ परीक्षा देंगे. ये परीक्षा व्यवसायिक परीक्षा मंडल को आयोजित करना है.

उसने अब तक इतनी बड़ी परीक्षा का आयोजन ही नहीं किया है. मंडल के साथ इसके प्रश्न पत्रों और उत्तर पुस्तिकाओं की आवाजाही पुलिस के लिए सिरदर्द साबित हो रही है. इसकी सुरक्षा में आने वाली दिक्कतों से पुलिस मुख्यालय हैरान है और उसनेे मंडल को इससे अवगत कराया है. पिछले महीने व्यापमं ने प्रदेश में संविदा शिक्षकों की परीक्षा के लिए आवेदन बुलाए थे. इस परीक्षा से तीन वर्गो के संविदा शिक्षक चयनित किए जाएंगे. प्रदेश में इससे पहले कभी भी किसी परीक्षा में 17 लाख परीक्षार्थी नहीं बैठे हैं. इसके लिए मंडल ने तीन तारीखें तय की थीं. यह परीक्षाएं चार दिसंबर, 18 दिसंबर और 22 जनवरी को आयोजित होना थीं. वर्ग एक के लिए चार दिसंबर की तारीख तय हुई इसमें एक लाख 52 हजार परीक्षार्थी बैठेंगे.

वर्ग दो के लिए 22 जनवरी जिसके साढ़े चार लाख आवेदन आए हैं. सर्वाधिक 13 लाख, 39 हजार आवेदन संविदा शिक्षक वर्ग तीन के लिए आए हैं. इसको लेकर सबसे ज्यादा दिक्कत है. अभी सरकार ने 18 दिसंबर की तारीख बढ़ाने की घोषणा की है, लेकिन नई तारीख नहीं आई है. ये परीक्षाएं प्रदेश के पूरे 50 जिलों में एक साथ आयोजित होना हैं. इनके प्रश्न पत्र सड़क मार्ग से जाना है और उत्तर पुस्तिका के साथ इसी मार्ग से वापस आना है. मंडल ने इनकी सुरक्षा के साथ परीक्षास्थल पर भी सुरक्षा मांगी है. इन सब तैयारियों को लेकर मंडल ने एक बैठक भी की. इसमें मंडल की अध्यक्ष रंजना चौधरी के अलावा स्कूल शिक्षा, तकनीकी शिक्षा और पुलिस विभाग के अफसर मौजूद थे. पुलिस ने प्रश्न पत्रों की सुरक्षा को लेकर अपनी आपत्तियां बता दी हैं. एक राय ये बनी है कि तीनों परीक्षाओं के प्रश्न पत्र एक साथ भेज दिए जाएं ताकि पुलिस का काम आसान हो. इस बीच 13 लाख परीक्षार्थियों वाली परीक्षा की तारीख सरकार ने बढ़ाने की घोषणा कर दी है, अब नई तारीख के बाद इनकी तैयारियों की समीक्षा की जाएगी.

Related Posts: