• अब तक 16 मैच में से भारत 9 जीता

नई दिल्ली,16 अक्टूबर. भारतीय टीम के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी का बल्ला भारत और इंग्लैंड के बीच सोमवार को यहां होने वाले दूसरे एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच के मेजबान स्थल फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में खूब चला है.

धोनी ने कोटला पर पांच मैचों में 67.00 के प्रभावशाली औसत से 134 रन बनाए हैं. इस मैदान पर उनका सर्वाधिक स्कोर नाबाद 71 रन है जो उन्होंने वर्ष 2009 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया था. धोनी ने इंग्लैंड के खिलाफ  हैदराबाद में खेले पहले एकदिवसीय में नाबाद 87 रन की पारी खेलकर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई थी. इंग्लैंड के खिलाफ  उसकी जमीन पर मिली शर्मनाक पराजय का बदला लेने के संकल्प के साथ उतरी भारतीय टीम को फिरोजशाह कोटला में एक बार फिर कप्तान धोनी के बल्ले से आतिशबाजी की उम्मीद रहेगी. धोनी और सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर को छोड़कर अन्य भारतीय बल्लेबाजों को इस मैदान पर खेलने का अनुभव नहीं है. गंभीर ने अपने इस घरेलू मैदान पर चार मैचों में 19.66 के औसत से मात्र 59 रन बनाए हैं. अनुभवी बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने इस मैदान पर आठ मैचों में 37ण्50 के औसत से 300 रन बनाए हैं. लेकिन पैर के अंगूठे में चोट के कारण वह इस श्रृंखला में नहीं खेल रहे हैं.

भारतीय टीम के मौजूदा गेंदबाजों में से किसी को भी इस मैदान पर खेलने का ज्यादा अनुभव नहीं है. वैसे ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने इस मैदान पर पांच मैचों में सात विकेट लिए हैं. लेकिन उन्हें पहले दो एकदिवसीय के लिए टीम में नहीं चुना गया है. भारत ने इस मैदान पर कुल 16 मैच खेले हैं जिनमें से नौ में उसे जीत मिली जबकि पांच में हार का सामना करना पड़ा. एक मैच रद्द रहा था जबकि एक में कोई परिणाम नहीं निकला. भारत का इंग्लैंड के खिलाफ  इस मैदान पर 50-50 का रिकॉर्ड रहा है. भारत ने इंग्लिश टीम के खिलाफ एक मैच जीता है. एक हारा है जबकि एक मैच रद्द रहा था. भारतीय टीम को वर्ष 2002 में इस मैदान पर इंग्लैंड ने रोमांचक मुकाबले में दो रन से हरा दिया था. इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 271 रन बनाए थे जिसके जवाब में भारतीय टीम आठ विकेट पर 269 रन ही बना सकी. मार्च 2006 में खेले गए मुकाबले में भारत ने इंग्लैंड को 39 रन से शिकस्त दी थी. भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 46.4 ओवर में 203 रन बनाए थे जिसके जवाब में इंग्लिश टीम 164 रन पर लुढ़क गई थी. हरभजन ने इस मैच में पांच विकेटए इरफान पठान ने तीन और युवराज ने दो विकेट लिए थे. लेकिन इनमें से कोई भी खिलाड़ी इस समय भारतीय टीम में नहीं है.

Related Posts: