छतरपुर . 9 जून.नससे.  आज सुबह इलाहाबाद  से  सागर  जा  रही  तवेरा  वाहन बड़ामलहरा थानान्तर्गत  सुक्कू  नदी  में  जा  गिरी  जिससे वाहन में सवार  छह  लोगों की मौत हो गई और पांच अन्य  गंभीर  रूप  से  घायल  हो  गए .इसे कुदरत का करिश्मा ही कहा जायेगा कि इस भयंकर दुर्घटना में एक छह माह का शिशु  सकुशल बच गया है.

जानकारी  के अनुसार टवेरा वाहन क्रमांक एमपी 15 बीए 1183 जो कि सागर के शहरूख खान की है. शनिवार को बड़ामलहरा के आगे  सुक्कू नदी पर बने साठिया घाटी में जैसे ही  वाहन आया कि  चालक  का नियंत्रण बिगड़  गया और एक पहिया पुल का रैलिंग तोड़ते हुए सीधे पचास फीट नदी में वाहन जा गिरा.

तवेरा में अधिकांश लोग नींद में थे इसलिए कुछ समझ नहीं पाए. वाहन  पहले सीधे जा गिरा और फिर पलट गया. वेग अधिक होने से  इतनी तेज धमक लगी कि  संभलने का मौका ही नहीं मिला और मौके पर ही पंाच लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि गंभीर रूप से घायल एक व्यक्ति ने अस्पताल  ले जाते समय दम तोड दिया. वाहन में सवार ं पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. यात्रियों के फंस जाने से चीख-पुकार  शुरू हो गई. कोई भी यात्री अपने को बचा पाने की स्थिति में नहीं था.

सुबह करीब साढ़े सात बजे घटी इस घटना के कुछ देर बाद वहां से सूरजपुरा रोड निवासी लक्खू यादव निकला जिसने घटना को देखते हुए पुलिस को सूचना दी. खबर मिलते ही एसडीओपी अनिल झारखडिय़ा, एसडीएम पाण्डे और प्रशासन का अन्य अमला घटना स्थल के लिए रवाना हो गया. 15 मिनट के अंतराल से पहुंची पुलिस ने तत्काल सूखी नदी से वाहन में दबे लोगों को निकालने का कार्य प्रारंभ किया. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया तवेरा पूरी तरह चकनाचूर हो गयी औरयात्री वाहन में बुरे तरह से फंसे हुए थे जिन्हें निकालने में काफी मशक्कत करना पड़ी.

गंभीर रूप से घायल सभी लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती है. इस हादसे में खुदा की रहमत से छह माह का जरीद खान सकुशल बच गया है. मृतकों में  सागर निवासी जावेद खान का दो वर्षीय पुत्र जुवेद, मजीद खान का 35 वर्षीय पुत्र नवाब, मुख्तार खान की  40 वर्षीय पत्नी शहिदा, दमोह के साजिद पहलवान का 50 वर्षीय पुत्र साबिर और कार चालक फिरोज खान हैं. एक गंभीर घायल 38 वर्षीय तौफीक पुत्र रफीक खान ने जिला अस्पताल ले जाते समय रास्ते में ही दम तोड़ दिया. वहीं जिन पांच घायलों को भर्ती कराया गया है उनमें मुस्ताक खान 30 वर्ष, जीनत पत्नि जावेद 25 वर्ष निवासी दमोह, नदीम पुत्र छोटू खान सागर 13 वर्ष, जरीद पुत्र जहीद खान निवसी दमोह हैं. इस घटना की जानकारी मृतकों के परिजनों को दी गई जो दोपहर तक छतरपुर पहुंच गए थे. मृतकों का पोस्ट मार्टम किया जाकर शवों को उनके परिजनों को सौँप दिया गया. इस हादसे को देखकर  मृतकों के परिजनों को गश तक आ गया. जिला अस्पताल में चीख-पुकार होती रही. इस हादसे में खुदा ने अपनी ऐसी रहमत भी दिखाई कि  6 माह का जरीद खान सकुशल बच गया. नदी में गिरी तवेरा जहां चकनाचूर हो गई वहीं यह बालक पूरी घटना से अंजान बना रहा. बालक  के बचने को किसी चमत्कार से कम नहीं माना जा रहा है. घटना को लेकर बड़ामलहरा पुलिस, प्रशासनिक अमला सहित स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सक पूरी मुस्तेदी के  साथ  घायलों को बचाने में  लगे रहे.

Related Posts: