भोपाल, 8 नवंबर. हज कमेटी ऑफ इंडिया भारत सरकार के मेम्बर डॉ. सलीम राज ने मक्का से बताया कि 12 जिलहिज्ज को तीनों शैतानों को कंकरी मारने की रस्म अदा करने के साथ ही हज के अहम 5 दिनों के अरकानों को पूर्ण कर समस्त हाजी मीना से मक्का वापस हुये हैं.सभी हाजियों ने हज के पांच दिनों में मीना, अराफात, मुजदलफा की अहम जगहों पर पूरे मुल्क व सूबे की तरक्की, खुशहाली के लिये विशेष दुआ की है. हज के 5 दिनों के अहम अरकानों में मीना, अराफात, मुजदलफा के दौरान कुल 26 भारतीय हज यात्रियों की सामान्य मृत्यु हुई है. हज के अहम अरकानों की समाप्ति उपरांत भारतीय हज यात्रियों की वापसी 12 नवंबर से प्रारंभ होगी.

सलीम राज ने बताया कि मीना में 11 एवं 12 जिलहिज्ज को कंकरी मारने की रस्म अदा करने के लिये मोअल्लिम के द्वारा अपने प्रतिनिधि नियुक्त किये गये थे. भारतीय हज मिशन द्वारा भी कंकरी मारने की रस्म अदा करने के लिये खास प्रबंध किये गये थे. मीना में इंडियन हज मिशन द्वारा पर्याप्त संख्या में गाइड, डॉक्टर्स व खिदमतगर नियुक्त किये गये थे. प्रदेश के कई हाजियों ने बेहतर चिकित्सकीय सेवा का लाभ लिया. सऊदी सरकार व इंडियन हज मिशन की जानिब से 24 घंटे मीना में चिकित्सा सुविधायें दी जा रही थीं. सलीम राज ने बताया कि हिन्दुस्तान के 124948 हज यात्रियों ने अपने हज के अरकानों को पूरा किया है.

आज हाजी मीना से मक्का वापस लौट आये हैं व इबादत में मशगूल हैं. सलीम राज ने आगे बताया कि हिन्दुस्तान के हाजियों की वापसी 12 नवंबर से प्रारंभ होगी. सभी हाजी जद्दा एवं मदीना एयरपोर्ट से अपने देश के लिये रवाना होंगे. सलीम राज ने मक्का से प्रदेश के सभी हाजियों की ओर से प्रदेशवासियों को सलाम व ईद की मुबारकबाद दी है. हज यात्रियों की वापसी की नई तारीखें- डॉ. सनवर पटेल अध्यक्ष मध्यप्रदेश स्टेट हज कमेटी ने बताया कि हज कमेटी ऑफ इंडिया से मध्यप्रदेश के भोपाल एवं इंदौर इम्बार्केशन पाइंट से गये हज यात्रियों की वापसी फ्लाईट का रिवाइज्ड शेड्ïयूल प्राप्त हुआ है. हज-11 में मध्यप्रदेश स्टेट हज कमेटी के माध्यम से भोपाल इम्बार्केशन पाइंट से 30 नवंबर के स्थान पर अब एक दिसंबर से आठ दिसंबर तक वापसी होगी एवं इंदौर इम्बार्केशन पाइंट से 7 दिसंबर के स्थान पर अब आठ दिसंबर से बारह दिसंबर तक हज यात्रियों की वापसी होगी. सभी हजयात्री सीधे मदीना से भोपाल/इन्दौर वापस लौटेंगे.

Related Posts: