गोधरा, 20 जनवरी. सद्भावना यात्रा पर निकले गुजरात के मुख्यमंत्री आज एक दिन के उपवास पर गोधरा में मौजूद हैं। मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि आज गुजरात की पहचान विकास को लेकर ही बनी है।

पहली बार गुजरात विकास की चर्चा केन्द्र में हुई है। उन्होंने कहा कि गुजरात के विकास को लेकर कभी भी उन्होंने झूठे वादे नहीं किए। देश ही नहीं दुनियाभर में गुजरात की पहचान विकास को लेकर हुई है। इसके लिए हमने विकास के कामों को एक एजेंडे की तहत किया।गोधरा में मौजूद मोदी ने कहा कि देश को विकास की नई परिभाषा गुजरात ने दी। मोदी की मानें तो उन्होंने गुजरात में कभी भी वोट बैंक की राजनीति नहीं की, विकास को लेकर राजनीति की। मोदी ने कहा कि गुजरात की जनता उनसे अपनी मांगे करती है और उसे वो पूरा करते हैं। अपने अंदाज में मोदी ने कहा कि पहले गुजरात के लोग बूंद-बूंद पानी के लिए तरसते थे, हमने पानी के कारोबार पर रोक लगाया और अब सबको भरपूर पानी मिलने लगा है। कांग्रेस पर चुटकी लेते हुए मोदी ने अपने भाषण में कहा कि गुजरात की जनता कहती है कि जब आपकी सरकार नहीं थी कि हम गदहे रखते थे और उस पर मिट्टी लादकर बेचने के लिए जाते थे। जब से आपकी सरकार आई है तब से हम गदहे नहीं जेसीबी रखने लगे हैं। मोदी ने कहा कि गुजरात की विकास का लाभ गरीब से गरीब लोग उठा रहे हैं।

Related Posts: