मुश्किल वक्त में कड़े फैसले करने पड़ते हैं. फोक्सवैगन की वेंटो से रेस में पिछडऩे के बाद जापानी कार कंपनी होंडा अपने फ्लैगशिप मॉडल सिटी सेडान की कीमतों में कटौती करके और फीचर बढ़ाकर बिक्री की स्पीड बढ़ाने की तैयारी कर रही है. जापानी प्रीमियर कार निर्माता ने छह महीने में दूसरी बार फ्लैगशिप सिटी सेडान की कीमत कम की है. होंडा सिटी का दाम घटाकर 6.99 लाख रुपए (एक्स शोरूम, दिल्ली) कर दिया गया है

कंपनी ने होंडा सिटी का नया वर्जन लॉन्च किया है. इससे कई साल तक इस सेगमेंट में अगुवा रहने वाली होंडा, ह्युंदै वरना और फोक्सवैगन वेंटो के सीधे मुकाबले में आ जाएगी. इन दोनों की कीमत भी 6.99 लाख रुपए है. इस साल मार्च में होंडा की भारतीय सब्सिडियरी में डायरेक्टर-मार्केटिंग का जिम्मा संभालने वाले सेकी इनाबा ने ईटी से कहा, हम बाजार में जारी मौजूदा प्रतिस्पर्धा के मद्देनजर अपने प्रॉडक्ट को ज्यादा बेहतर बनाने के लिए कारों में और फीचर जोड़ रहे हैं और उनके दाम में कटौती कर रहे हैं. अलग-अलग मॉडल में सभी स्तरों पर दाम में कटौती की रणनीति भी इनाबा के दिमाग की उपज बताई जा रही है. होंडा सिटी की कीमत इस साल जून में 66,000 रुपए घटाई गई थी. इसके बाद इस कार की शुरुआती कीमत 7.49 लाख रुपए हो गई थी. इनाबा ने कहा, कीमतों में बदलाव हमारे नए लॉन्च सिटी वेरिएंट के साथ किया गया है, जो फ्लैगशिप कार पर मिले ग्राहकों के रिस्पॉन्स पर आधारित है. होंडा लगातार गिरती बिक्री की समस्या से जूझ रही है। मार्च में जापान में आई सुनामी की वजह से उत्पादन के मोर्चे पर उसे काफी नुकसान उठाना पड़ा. कारोबारी साल के शुरुआती आठ महीनों के दौरान उसकी बिक्री 20 त्न घटकर 31,699 यूनिट पर आ गई. उसकी करीबी प्रतिद्वंद्वी फोक्सवैगन की सेल्स 107ज् बढ़कर 52,037 यूनिट पहुंच गई, जबकि टोयोटा की बिक्री 86 च् उछाल के साथ 91,981 यूनिट पहुंच गई. भारत में होंडा का मुख्य रणक्षेत्र भारतीय कार बाजार का कम वॉल्यूम वाला प्रीमियम एंड है, जिसमें वह सिटी, सिविक और एकॉर्ड सेडान बेचती है. हालिया वक्त में फोक्सवैगन और निसान जैसी बाद में दाखिल होने वाली कंपनियों की तेजतर्रार ग्रोथ ने कंपनी को वॉल्यूम बढ़ाने की नई रणनीति बनाने पर मजबूर कर दिया है.
____________________________

Related Posts: