स्वीप प्लान से 18 वर्ष उम्र के मतदाताओं के नाम सूची में जोड़े जाने पर जोर

भोपाल, 4 जुलाई, भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार एक जनवरी 2013 को तैयार होने वाले मतदाता सूची में 18 वर्ष उम्र के मतदाताओं के नाम जोड़े जा सके इसके लिए सिस्टेमेटिक वोटर्स एजूकेशन एण्ड इलेक्टोरल पार्टिसिपेशन प्लान जारी किया गया है. मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी जयदीप गोविंद ने जिला कलेक्टरों को पत्र लिखकर इसके अनुसार कार्य करने के लिए कहा है.

स्वीप प्लान में प्रदेश में उन मतदाताओं की पहचान का कार्य भी शुरू किया गया है, जिनकी उम्र एक जनवरी 2013 को 18 वर्ष पूरी हो जायेगी. इसके लिए नेहरू युवा केन्द्र, राष्ट्रीय सेवा योजना, एनसीसी, स्वयं सेवी संगठनों, आँगनवाड़ी कार्यकर्त्ताओं की मदद ली जा रही है. हाल ही में शुरू हुए शैक्षणिक सत्र में संस्थाओं विशेष रूप से महाविद्यालयों, हॉस्टल में भी मतदाता सूची में नाम जोड़े जाने के लिए फार्म 6 उपलब्ध करवाए गए हैं. प्रत्येक महाविद्यालय में इस कार्य के लिए नोडल अधिकारी भी बनाने के लिए भी कहा गया है.

स्वीप प्लान के तहत तैयार किए गए मतदाताओं के फोटो परिचय-पत्र का आगामी वर्ष में 25 जनवरी मतदाता दिवस पर वितरण किया जायेगा. जिला निर्वाचन अधिकारियों एवं कलेक्टरों को ऐसे पोलिंग बूथ की पहचान करने को कहा गया है जहाँ महिला मतदाताओं का प्रतिशत पुरूषों की तुलना में कम है. प्रत्येक तहसील स्तर पर वोटर रजिस्ट्रेशन सेन्टर बनाने के लिए कहा गया है जहाँ निरंतर पात्र मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में जोड़े जाने का कार्य हो.

जिला निर्वाचन अधिकारियों से कहा गया है कि हाल ही में  15 अप्रैल से 15 जून के बीच चलाए गए डोर-टू-डोर सर्वे में मतदाताओं से प्राप्त किए गए फार्म 6 का अनिवार्य रूप से 15 जुलाई तक निराकरण किया जाए. इस अभियान के दौरान प्राप्त मतदाताओं के आवेदन के साथ उनके फोटो प्राप्त कर फोटो परिचय-पत्र तैयार किए जाएँ. पिछले दिनों चलाए गए अभियान में प्रदेश भर में 35 लाख मतदाताओं के आवेदन प्राप्त हुए थे. उन जिलों में विशेष ध्यान देने के लिए कहा गया है जहाँ वर्ष 2012 की जनगणना के अनुपात में मतदाताओं की संख्या अभी भी कम है. मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में मतदाताओं की सुविधा के लिए टोल-फ्री नंबर 1950 लगाया गया है. इस फोन पर मतदाता अपनी समस्याओं के संबंध में बातचीत कर सकते हैं.

Related Posts: