कोलंबो, 24 सितंबर. वेस्टइंडीज के कप्तान डेरेन सैमी ने चौथे ट्वंटी-20 विश्व कप के 11वें मुकाबले में टॉस जीतकर आयरलैंड को पहले बल्लेबाजी को बुलाया. बारिश से खलल वाले मैच में आयरलैंड ने वेस्टइंडीज के सामने जीत के लिए 130 रनों का लक्ष्य रखा था लेकिन मैदान पर भारी बारिश होने के कारण मैच को बगैर किसी परिणाम के समाप्त घोषित कर दिया.

अच्छे औसत के कारण वेस्ट इंडीज को अंतिम आठ में प्रवेश मिल गया है. आस्ट्रेलिया पहले से ही सुपर ाट में पहुंच चुकी थी. आयरलैंड ने संशोधित 19 ओवर में छह विकेट पर 129 रन बनाए. निल ओ ब्रायन ने सर्वाधिक 25 रन बनाए. जबकि क्रिस गेल ने दो और फिडेल एडवर्ड्स, रवि रामपाल, डेरेन सैमी व सुनील नरेन ने एक-एक विकेट झटके. दोनों टीमें अपना-अपना पहला मुकाबला ऑस्ट्रेलिया से हार चुकी हैं. ऑस्ट्रेलिया ने आयरलैंड को सात विकेट से हराया था जबकि वेस्टइंडीज को उसने डकवर्थ-लुईस नियम के तहत 17 रनों से मात दी थी. पहले बल्लेबाजी का निमंत्रण मिलने के बाद पहली ही गेंद पर आयरिश कप्तान विलियम पोर्टरफील्ड (0) फिडेल एडवर्ड्स की गेंद पर बोल्ड हो गए. पोर्टरफील्ड इससे पूर्व ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी पहले ही गेंद पर कैच आउट हो गए थे.

नए बल्लेबाज एड जोएस ने दूसरी गेंद पर चौका लगाकर टीम का खाता खोला. जोएस ने इस ओवर में एक और चौका लगाया. शुरुआती झटके के बाद जोएस ने दूसरे ओपनर पॉल स्टर्लिग के साथ पारी को आगे बढ़ाया लेकिन अभी पांच ओवर का ही खेल हुआ था कि बारिश आ गई और मैच को रोक दिया गया.

उस समय स्टर्लिग 13 गेंदों में तीन चौके साथ 16 और जोएस 16 गेंदों के साथ 17 रन (3 चौका) बनाकर खेल रहे थे. खेल जब शुरू हुआ तो जोएस को 17 के निजी योग पर स्पिनर सुनील नरेन ने बोल्ड कर दिया. इसके बाद स्टर्लिग भी 19 के निजी स्कोर पर डेरेन सैमी की गेंद पर क्रिस गेल को कैच थमा बैठे. गैरी विल्सन (21) और निल ओ ब्रायन (25) को गेल ने आउट कर टीम को दोहरी सफलता दिलाई. रवि रामपाल ने केविन ओ ब्रायन (13) को बोल्ड कर आयरिश टीम का छठवां विकेट गिरा दिया.

Related Posts: