सेमीफाइनल के करीब श्रीलंका

पाल्लेकल, 29 सितम्बर. सेमीफाइनल में पहुंचने की जंग में कप्तान महेला जयवर्धने (नाबाद 65) क्या खूब चले और जोरदार बल्लेबाजी करते हुए सुपर-आठ में लगातार दो जीत दिलाकर मेजबान टीम की सेमीफाइनल में जगह लगभग पक्की कर दी है.

टी-20 विश्व कप के सुपर-आठ में पहले ग्रुप के चौथे मुकाबले में आज श्रीलंका ने वेस्टइंडीज को नौ विकेट से रौंद दिया. कैरेबियाई टीम को बेहद धीमी शुरुआत मिली लेकिन अंतिम ओवरों में मार्लोन सैमुअल्स 34 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली जबकि ड्वेन ब्रावो ने 40 रनों का योगदान दिया. इन दो बेहतरीन पारियों के दम पर वेस्टइंडीज ने 20 ओवर में पांच विकेट पर 129 रन बनाए. जवाब में श्रीलंका ने 15.2 ओवर में महज एक विकेट गंवाकर 130 रनों का लक्ष्य हासिल कर लिया. विजयी टीम के लिए महेला ने कुमार संगकारा नाबाद 39 रन के साथ दूसरे विकेट के लिए अविजित 108 रनों की शतकीय साझेदारी की. महेला ने 49 गेंदों में 10 चौका व एक छक्का लगाया. श्रीलंका की ओर से अंजथा मेंडिस ने दो व नुवान कुलासेकरा व जीवन मेंडिस को एक-एक विकेट लिए. जबकि विंडीज टीम की ओर से एकमात्र सफलता रवि रामपाल को मिली. गेंद के लिहाज से श्रीलंका की टी-20 में यह सबसे बड़ी जीत है. श्रीलंका ने यह मैच 28 गेंदों के अंतर से जीता.

लीग चरण में बिना जीत दर्ज किए सुपर आठ में पहुंचे वेस्टइंडीज ने रोमांचक संघर्ष में इंग्लैंड को 15 रन से हराकर लय में वापसी की थी, वहीं न्यूजीलैंड को सुपर ओवर में मेजबान श्रीलंका ने हराया था. आसान लक्ष्य के जवाब में ओपनरों ने आतिशी शुरुआत दिलाई. दिलशान तिलकरत्ने (13) ने दूसरे ओवर में फिडेल एडवर्ड्स पर लगातार तीन चौका जमाया.

दिलशान ने महेला के साथ तीन ओवर में 22 रनों की साझेदारी की. हालांकि इसी ओवर में रवि रामपाल ने दिलशान को कैच आउट करा दिया. इसके बाद महेला और कुमार संगकारा ने दूसरे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी कर टीम का स्कोर सौ के पार पहुंचाया. संगकारा ने सातवें ओवर में सुनील नरेन की अंतिम गेंद पर चौका लगाकर टी-20 क्रिकेट में अपने एक हजार रन पूरे कर लिए. दूसरी ओर कप्तान महेला ने अपनी शानदार पारी के दौरान टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 90 से ज्यादा चौका लगाने वाले दुनिया के पहले क्रिकेटर बन गए. छोटे से लक्ष्य का बचाव के लिए कैरेबियाई गेंदबाज तैयार नहीं दिखे और कई वाइड फेंककर अतिरिक्त रन भी दिए. महेला ने 45 गेंदों में अपना पचासा पूरा किया. दोनों अंत तक नाबाद रहे और अपनी टीम की जगह अंतिम चार में पक्की कर ली. इससे पूर्व टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी कैरेबियाई टीम की शुरुआत बेहद धीमी रही और छह ओवर में महज 20 रन जोड़ सके और इस दौरान दोनों ओपनर का विकेट भी गंवा दिया. पांचवें ओवर में अजंथा में मेंडिस जानसन चा?र्ल्स को स्टंप आउट करा दिया. आउट होने से पूर्व चा?र्ल्स ने मलिंगा के ओवर में दो चौका लगाया था. छठवें ओवर में विंडीज टीम को जोरदार झटका लगा जब विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल (2 रन, 9 गेंद) एक भी चौका लगाए बगैर नुवान कुलसेकरा की गेंद पर कैच आउट हो गए. बहुत ही धीमी शुरुआत के कारण विंडीज टीम के 50 रन 10वें ओवर में पूरे हुए. दो विकेट खोने के बाद ड्वेन ब्रावो और मार्लोन सैमुअल्स ने तीसरे विकेट के लिए 9.2 ओवर में 65 रनों की साझेदारी कर टीम का स्कोर सम्मानजनक स्तर तक ले जाने की कोशिश की लेकिन 15वें ओवर में 34 गेंदों में 40 रन बनाने के बाद ब्रावो जीवन मेंडिस की गेंद पर कैच आउट हो गए. इसके बाद टूर्नामेंट में अब तक असफल रहे कीरोन पोलार्ड क्रीज पर आए और महज एक रन बनाकर बोल्ड हो गए. अजंथा ने आज भी लाजवाब गेंदबाजी की और पोलार्ड को आउट कर चार ओवर में एक मेडन के साथ 12 रन देकर मैच में अपनी दूसरी सफलता हासिल की. सैमुअल्स 20वें ओवर में कैच आउट हो गए.

Related Posts: