विदिशा, 29 नवम्बर न.स.से. रामलीला मैदान क्षेत्र स्थित सरकारी वेयर हाउस से गेहूं प्राप्त करने वाले कुछ कंट्रोल संचालकों का आरोप था कि यहां से जो गेहूं उठाया गया वह निर्धारित मात्रा से कम निकला. सूचना मिलने पर मौके पर संबंधित अधिकारी पहुंचे.

नगर के कुछ कंट्रोल संचालकों का आरोप था कि रामलीला मैदान क्षेत्र स्थित उक्त सरकारी वेयर हाउस से जब उन्होंने गेहूं उठाया तो वह निर्धारित मात्रा से कुछ कम निकला. एक कंट्रोल संचालक का आरोप था कि उन्होंने एक ट्राली गेहूं उठाया था, जिसके प्रत्येक बोरे में कुछ-कुछ किलो गेहूं कम निकला और इस तरह पूरी ट्राली माल में करीब डेढ़ क्विंटल गेहूं कम  निकला. सूचना मिलने पर मौके पर संबंधित अधिकारी पहुंचे. इस संबंध में कनिष्ठï आपूर्ति अधिकारी एमबी फारूकी का कहना है कि सूचना मिलने पर वे मौके पर पहुंचे और कुछ कंट्रोल संचालकों की शिकायत को सुनने के बाद उसका समाधान भी किया. श्री फारूकी ने बताया कि रामलीला मैदान क्षेत्र स्थित उक्त सरकारी वेयर हाउस से सरकारी गेहूं का कंट्रोल दुकानों को आवंटन प्रत्येक माह प्रथम सप्ताह में ही कर दिया जाता है, लेकिन कंट्रोल वाले माल उठाते-उठाते थोड़ा समय लगा देते हैं. उन्होंने बताया कि अब कोई समस्या नहीं है. वहीं जिला खादय आपूर्ति अधिकारी महेन्द्रसिंह रघुवंशी ने बताया कि उनके पास इससे संबंधित कोई शिकायत नहीं आई है.

सरकार को भारी नुकसान
उक्त वेयर हाउस में बड़ी मात्रा में सरकारी गेहूं को रखा गया है. जहां कई बोरों में घुन लगा पाया गया. जिससे स्पष्टï होता है कि उक्त गेहूं को सरकारी कर्मचारियों द्वारा हिफाजत के साथ नहीं रखा गया. जिससे सरकार को लाखों रुपए का नुकसान होगा. इस संबंध में जिला खादय आपूर्ति अधिकारी महेन्द्रसिंह रघुवंशी ने कहा कि लाखों टन गेहूं लिया गया है और उसे हिफाजत से ही रखा गया है, लेकिन कुछ बोरे गेहूं में घुन लग गया है तो उन्हें हटवा दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि घर में रखे गेहूं में भी घुन लग जाता है.

Related Posts: