महंत रामभूषणदास ने लगाया आरोप

भोपाल, 8 नवम्बर. श्री पंचमुखी हनुमान मंदिर के महंत रामभूषणदास ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन द्वारा आवारा पशुओं की धड़पकड़ के नाम पर जानवरों को पकड़ कर कांजी हाउस में रखे जाने का प्रावधान किया है लेकिन नगर निगम भोपाल यहां दुधारू गायों को पकड़कर किस कांजी हाउस में रखता है इसकी जानकारी नहीं दी जाती.

जिससे पशुपालक थक हार कर घर में बैठ जाते है और नगर निगम के अधिकारियों की सांठ गांठ से वही पशु गौशाला की जगह कसाईयों को बेच दिए जाते है. यह धंधा विगत कई वर्षों से नगर निगम भोपाल में चल रहा है. जिसका कोई लेखा जोखा नगर निगम के पास नहीं है. उन्होने कहा कि पंचमुखी हनुमान मंदिर रेलवे कालोनी की गाय जिसने चार दिन पूर्व ही बच्चे को जन्म दिया था उसे नगर निगम का अमला ले गया था. नगर निगम के अधिकारियों से पूंछने पर कोई संतोष जनक जवाब नहीं मिला. कभी अधिकारी गांधी नगर, कभी आनंद नगर, कभी कोकता, कभी कही बता कर पल्ला झाड़ रहे है. महंत ने कहा कि नगर निगम के अधिकारी बाथम से पूछा तो उन्होंने कह दिया कि कमिश्रर महोदय से पूछो गाय कहां है.

Related Posts: