भोपाल, 7 जून, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया ने प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति में आई भारी गिरावट और हत्या, बलात्कार, लूट जैसे अपराधों में तेजी से वृद्धि पर गहरी चिंता प्रकट की.

उन्होनें कहा कि कल इंदौर के सरवटे बस स्टैण्ड पर और जबलपुर के अस्पताल में हुई जघन्य हत्याओं की घटनाओं ने यह साबित कर दिया है कि प्रदेश की कानून-व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है और अपराधी तत्व निर्भय होकर बड़ी-बड़ी आपराधिक वारदातों को अंजाम दे रहे हैं. जब इंदौर और जबलपुर जैसे महानगरों में, जहां पर कि कानून-व्यवस्था के शत-प्रतिशत चुस्त-दुरूस्त होने के दावे किये जाते हैं, सरेआम इस प्रकार हत्याएं हो जाना पुलिस प्रशासन की अक्षमता को जाहिर करती हैं.

कांग्रेस बिगड़ती कानून-व्यवस्था की ओर राज्य सरकार का ध्यान बराबर आकर्षित करती रही है, लेकिन सरकार है कि न कुछ देख रही है और न कुछ सुन रही है. अपराधों की रोकथाम के लिए कारगर कदम उठाना तो दूर की बात है. सवाल यह है कि क्या राज्य के गृह मंत्री ने बढ़ते अपराधों को गंभीरता से न लेने की कसम खा ली है ? प्रदेश की जनता अब आजीज आ चुकी है और पूछ रही है कि आखिर प्रदेश को अपराधों की भट्टी में क्यों झोंका जा रहा है ?

Related Posts:

संस्कृति मंत्री ने बच्चों को किया सम्मानित
विकास कार्य रोककर किसानों को देंगे मदद
दिल्ली समेत उत्तर भारत में भूकंप के झटके, तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.6 मापी गई
छिंदवाडा पहुंचे रविशंकर प्रसाद, ब्रॉडबैंड से जोडा 51 ग्राम पंचायतों को
मंदसौर किसान मौत के जिम्मेदार लोगों पर हो कार्रवाई : कांग्रेस
गुजरात चुनाव के पहले चरण का मतदान कल