रेलवे स्टेशन के विकास के लिये बना रेलवे स्टेशन अथारिटी ऑफ इंडिया

  • रेलमंत्री दिनेश त्रिवेदी ने भोपाल एवं हबीबगंज स्टेशन का किया निरीक्षण

भोपाल, 17 नवंबर, नभासं. आज भोपाल एवं हबीबगंज स्टेशन का केन्द्रीय रेलमंत्री दिनेश त्रिवेदी ने निरीक्षण कर यहां की समस्याओं एवं व्यवस्थाओं से रू-ब-रू हुए. विदेशी पैटर्न पर वल्र्ड क्लास स्टेशन का निर्माण किया जाएगा. आधुनिकीकरण के लिए विदेशी विशेषज्ञों से भी मदद ली जायेगी. लेकिन जब तक पीपीपी नहीं होगी आधुनिकीकरण संभव नहीं होगा. यह बात पत्रकारों से चर्चा के दौरान कही.

भोपाल स्टेशन पर अपने निरीक्षण के दौरान रेलमंत्री ने सबसे पहले प्लेटफार्म क्रं. 1 पर निरीक्षण किया. इसके पश्चात वे पैदल पुल से पश्चिमी छोर के प्रारंभ में 6वें प्लेटफार्म के विकास संबंधी ले-आउट का निरीक्षण करते हुए रेल महाप्रबंधक एस.वी. आर्य एवं डीआरएम घनश्याम सिंह से विस्तृत चर्चा की. इसके बाद खान-पान के लिए संचालित किये जा रहे रश-एन-ब्राइट का निरीक्षण किया. रेलमंत्री के निरीक्षण के दौरान रेलवे के सभी वरि. आला अफसर मौजूद थे. पत्रकारों से चर्चा के दौरान श्री त्रिवेदी ने बताया कि 8 वर्ष से रेल किराये में वृद्घि नहीं हुई है. किन्तु इन आठ वर्षों में ईधन के दाम बढ़े हैं,फिर भी किराये में वृद्घि को लेकर रेलमंत्री ने कहा कि मात्र किराये में वृद्घि से रेलवे की आर्थिक स्थिति नहीं सुधर जायेगी. इससे महज 2-3 हजार करोड़ की आय होगी. इसके लिये हमें आमदनी के अन्य स्रोत भी बढ़ाने होंगे.

श्री त्रिवेदी भोपाल स्टेशन पर चर्चा के दौरान यह जानकारी देते हुए बताया कि यहां विकास का काम बहुत होना है. मेरी तरफ से खाका तैयार है, इस स्टेशन को आधुनिकीकरण करने की काफी गुंजाइश है. इसके लिये पूरा प्रयास किया जायेगा. श्री त्रिवेदी ने हबीबगंज स्टेशन पर अपने निरीक्षण के दौरान जानकारी दी कि रेलवे में नेटवर्क की कमी है. आज हमारी मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान एवं संसद सदस्यों के साथ होने वाली बातचीत में हमारा यह प्रयास रहेगा कि मध्यप्रदेश में रेलवे के विकास के लिए राज्य सरकार एवं रेलवे की आधे-आधे की भागीदारी पर सहमति बने. भोपाल स्टेशन के विकास के लिये हमें आधुनिक तरीके से सोचना होगा तथा हमें अपनी सोच बदलनी होगी. हमारी कोशिश है, रेल भी चले और आम आदमी को किसी प्रकार का दिक्कत भी न हो. इसी मुद्ïदे पर हमारी राज्य सरकार से विशेष तौर से चर्चा होगी.

वल्र्ड क्लास स्टेशन के  अंतर्गत सुविधाओं के बारे में जानकारी देते हुए रेलमंत्री ने बताया कि वल्र्ड क्लास स्टेशन ऐसा रूप दिया जायेगा. जिसके अंतर्गत यात्रियों को स्टेशन पर रेस्टोरेन्ट, ब्युटीशियन सहित अन्य वो सभी सुविधा मिलनी चाहिए. ये हमारी पहली प्राथमिकता रहेगी. इससे जहां रेलवे की आमदनी में इजाफा होगा, वहीं यात्रियों को भटकना नहीं पड़ेगा. नवभारत संवाददाता द्वारा यह पूछे जाने पर कि भोपाल स्टेशन के 6 वें प्लेटफार्म के विकास के लिये आ रही फण्ड की बाधा को कब तक दूर कर ली जायेगी. इस संबंध में रेलमंत्री ने बताया कि 6 वें प्लेटफार्म को बनाने के लिए अकेले रेलवे सक्षम नहीं है. कोई भी निर्माण कार्य पीपीपी के सहयोग से ही पूरा होगा. रेलमंत्री ने यह जानकारी देते हुए बताया कि अब देश में रेलवे स्टेशन के विकास कार्य के लिये रेलवे स्टेशन अथारिटी ऑफ इंडिया के तहत हर निर्माण कार्य किया जायेगा. चाहे वह वल्र्ड क्लास का कार्य क्यों न हो. रेलवे की बड़ी -बड़ी योजनाओं के संचालन में रेलवे स्टेशन अथारिटी ऑफ इंडिया की भूमिका महत्वपूर्ण रहेगी. इन योजनाओं को मूर्तरूप देने में पीपीपी की भूमिका भी अहम रहेगी.

हबीबगंज स्टेशन पर जबलपुर से भोपाल चलने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस में यात्रा कर घर जा रहे रचना नगर निवासी दिनेश शिवहरे ने सेकेण्ड एण्ट्री पर रेलमंत्री को देख उनसे शिकायत करते कहा कि मैं 6 वर्ष से साप्ताहिक यात्रा कर रहा हूॅं. अक्सर ऐसा होता है कि स्टेशन पर डिस्पले में गलत जानकारी दिखाई जाती है. ट्रेनों में साफ-सफाई का अभाव के साथ ही स्टेशन के अंदर जानवर घूमते रहते हैं. इस पर मंत्री जी ने कहा कि यात्रियों को भी सहयोग करना चाहिए. हबीबगंज स्टेशन के प्लेटफार्म क्रं. 1 के निरीक्षण के दौरान एक यात्री प्लेटफार्म क्रं. 2 से 1 पर आने के लिये पटरी पार रहा था, इतने में रेलमंत्री की नजर पड़ी और उसे ऐसा न करने की समझाइस देते हुए फटकार लगाई.

Related Posts:

मीना समाज की महिलाएं करेंगी मुख्यमंत्री का अभिनंदन
स्ट्रीट लाइट बंद किए जाने पर अधिकारियों को लताड़
थाना-स्तर पर शांति समिति की होगी बैठक
नेपाल भूकंप त्रासदी: जो जहां था पल भर के लिए वहीं रूका
सरला मिश्रा हत्याकांड की सीबीआई जांच हो: आनंद मिश्रा
विद्यार्थियों के वैज्ञानिक प्रयोगों को प्रोत्साहन देने 50 करोड़ का विशेष कोष बने...