दिल्ली से आयी टीम, स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में कामों का मूल्यांकन शुरू

नवभारत न्यूज इटारसी,

स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 नामक परीक्षा में शहर में हुए कार्यों को जांचने दिल्ली से सर्वे दल आ चुका है, दो दिन दिल्ली की यह टीम दस्तावेजों को अपलोड करेगी, दिल्ली में दस्तावेज देखने जाने के बाद वहां से मिलने वाले निर्देशों का पालन करते हुए टीम के सदस्य शहर में भ्रमण करके फील्ड सर्वे प्रारंभ करेंगे.

यानी अगले चौबीस घंटे में असली परीक्षा प्रारंभ होगी. आज यहां पहुंची दो सदस्यीय टीम ने सारा दिन दस्तावेजों को अपलोड करने का काम किया है. कल भी यही काम होने की संभावना है और इसके बाद फील्ड सर्वे शुरु होगा. दिल्ली से वरिष्ठ पर्यवेक्षक प्रकाश भोजकर के नेतृत्व में टीम इटारसी पहुंच चुकी है.

अभी 15 वे नंबर पर है इटारसी

स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में एक लाख से कम आबादी वाले शहरों में इटारसी देश में 15 वें नंबर पर और प्रदेश में अव्वल नंबर पर है. शहर को मिली इस उपलब्धि के पीछे जनता का अच्छा सहयोग है, क्योंकि सर्वेक्षण में पब्लिक फीडबैक पर ही सर्वाधिक अंक मिले हैं.

शहर का हर वर्ग मान रहा है कि शहर बदल रहा है, लोग जागरुक हो रहे हंै, स्वच्छता के प्रति समझ बढ़ी है. दिल्ली की टीम ने अपना काम भी शुरू कर दिया है.

नपा ने जितने भी प्रयास किए हैं, वे स्वच्छता सर्वेक्षण के मापदंड पर खरे उतरते हैं तो माना जा सकता है कि इटारसी शहर को रैंकिंग में बेहतर नतीजे मिल जाएं.

ऐसे होगा फील्ड पर सर्वे

दिल्ली की टीम फील्ड पर उन स्थानों पर जाकर सर्वे करेगी जो उनको दिल्ली से बताए जाएंगे. जिन भी बिंदुओं पर नगर पालिका ने जानकारी तैयार की है, और जो अपलोड किए जा रहे हैं, उनके आधार पर टीम को लोकेशन मिलेगी. टीम जाकर उन स्थानों पर वास्तविकता को जांचेगी।

आमजन से भी फीडबैक लिया जाएगा. इसके बाद टीम अपना प्रतिवेदन शहरी विकास मंत्रालय को सौंपेगी, फिर रैंकिंग की घोषणा की जाएगी. अनुमान है कि इन सारी प्रक्रिया में एक से डेढ़ का वक्त लग सकता है. ऐसे में उम्मीद यही है कि मार्च के अंत या अप्रैल की शुरुआत में रैंकिंग की घोषणा हो सकती है.

Related Posts: