नवभारत न्यूज खंडवा

देश में स्टार्ट अप को लेकर सरकार युवाओं को कौशल करने के लिए प्रोग्राम चला रही हैं। खंडवा जिले के आदिवासी ब्लॉक खालवा के सुदूर अंचल में 26 आदिवासी महिलाओं ने ग्रामीणों और परिवार के विरोध के बावजूद गांव के खेतों को सिंचित कर गर्मी में मवेशियों और ग्रामीणों को अपनी आवश्यकता पूरी करने के लिए भरपूर पानी की भी व्यवस्था कर दी।

गांव से पलायन को भी रोक दिया। इनकी टीम लीडर अनपढ़ गांव की ही बुधिया बाई है। उसे एक एनजीओ ने पालिश किया। देखते ही देखते बुधिया अब जिले में आयरन लेडी बनकर चर्चित है। राष्ट्रीय त्यौहारों पर ऐसे चेहरों को सम्मानित करना चाहिए,बजाए विभागप्रमुखों के।

वे तो वेतन लेकर सेवा दे रहे हैं,लेकिन यहाँ तो धरातल पर उतरकर सुदूर गांवों में बिना अपने नाम के गरीबों के लिए काम कर रहे हैं। वे जानते हैं कि गरीबी क्या होती है? कैसे ये लोग महंगाई के दौर में पेट भरते हैं?

ऐसे बदली तकदीर- बुधिया बाई अनपढ़ हैं। उसे समझ नहीं आ रहा था कि क्या करे। उसे स्पंदन समाज सेवा समिति एनजीओ का पता मिला। एनजीओ ने उन्हें काम के बदले अनाज देने की बात कही। गांव की महिलाएं बात मान गईं। लगभग दो एकड़ के क्षेत्र में फैले तालाब को गहरा करने के लिए कुदालें उठा लीं। पुरूष तबका देखता और हंसता भी रहा। स्पंदन की सीमा ने हौसला दिया। पांच सप्ताह में गांव की 26 महिलाओं ने तालाब को गहरा कर डाला। लगभग 13 फिट पानी जमा कर लिया। पानी जमा होने के बाद भी बुधिया बाई रुकी नहीं।

पुरुषों ने खिल्ली उड़ाई

खालवा के चबूतरा गांव की रहने वाली बुधिया बाई ने तस्वीर बदल दी। इनके गांव में पानी की कमी से इंसान और मवेशी परेशान थे। पानी की कमी के चलते कई मवेशी जान गंवा चुके थे। गांव के लोग पलायन को मजबूर थे। बुधिया बाई को बात अखर गई? महिलाओं के साथ गांव के अंतिम छोर पर बने तालाब को गहरा कर उसमें पानी संग्रहण किया। गांव के लोग इनकी बुद्धि पर हंसे। परिवार और गांव के पुरुषों ने खिल्ली उड़ाई। घूंघट में महिलाएं कसमसाती रहीं।

फटे कपड़ों पर कसा तंज

बुधिया बाई ने बताया कि जब उन्होंने इस काम को लेकर गांव में चर्चा की तो पूरा गांव मेरे खिलाफ हो गया। मैंने हिम्मत नहीं हारी। गांव की लगभग 35 महिलाओं को तालाब को गहरा करने के लिए तैयार किया। गांव वालों ने मेरे फटे कपड़ों पर तंज कसते हुए कहा,फटे पहन कर तुम शहर भी जाओगी तो कोई भी अधिकारी सहायता नहीं करेंगे। उल्टा दरवाजे से ही भगा देंगे।