छात्रसंघ चुनाव के समय से है रंजिश

नवभारत न्यूज भोपाल,

मिसरोद स्थित इंस्टिट्यूट ऑफ प्रोफेश्नल एजूकेशन एडं रिसर्च (आईपर कॉलेज) में पुरानी रंजिश को लेकर छात्रों के दो गुट आपस में भिड़ गए. छात्रों की आपसी लड़ाई की बाद कॉलेज से ड़ायल 100 को फोन लगाया गया. जिसके बाद नजदीकी मिसरोद थाने में छात्रों को ले जाया गया. छात्रों के थाने पहुंचते ही उनके परिजन भी थाने पहुंच गए. जहां पुलिस ने दोनो गुटों के मध्य समझौता करवाया.

नवबंर माह में प्रदेश के निजी कॉलेजों में चुनाव हुए थे. आईपर कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव में कक्षा प्रतिनिधी के चुनाव के समय छात्रों के मध्य विवाद हुए थे. जिसमें छात्रों के मध्य झड़प हो गई थी. पर संस्थान में पुलिस की तैनाती के कारण हिंसक वारदात नहीं हो पायी.

चुनाव में विजयी होने पर एबीवीपी के छात्रसंघ अध्यक्ष बॉबी राजपूत ने परिसर के गेट के समीप रायफल से फायरिंग भी की थी. चुनाव के पश्चात एबीवीपी समर्थक और एनएसयूआई समर्थक गुट संस्थान में पनप गए थे. इसी तीन माह पुरानी रंजिश के चक्कर में गुरुवार को एक ही कक्षा में पढऩे वाले दो छात्र आपस में लड़ बैठे, जिसमें संस्थान का छात्रसंघ अध्यक्ष भी शामिल था.

छात्रों की मारपीट को देखकर नजदीक के मिसरोद थाने ने तुरंत कार्यवाही करते हुए छात्रों को थाने ले जाया गया, जहां पर छात्रों के परिजनों को भी घटना की खबर लगते ही वह भी थाने पहुंच गए. परिजनों के निवेदन करने पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज नहीं की. पर छात्रों से लिखित समझौता करवाकर उनसे ब्राण्ड़ भरवाया गया.

आईपर कॉलेज में छात्रों में आपसीं मारपीट की खबर हमें पहुंचायी गई, जिसपर संझान लेते हुए छात्रों को थाने लाया गया. जहां पर छात्रों ने लिखित समझौता पत्र दिया. पुलिस ने उनसे ब्राण्ड भरवाकर उचित कार्यवाही की है. छात्रों में चुनाव के समय से रंजिश थी.
-घनश्याम दांगी एसएचओं मिसरोद थाना

पुरानी रंजिश को लेकर छात्र अभिषेक पटेल और बॉबी राजपूत के बीच झड़प हुई. कॉलेज पार्किग में एक छात्र ने दूसरे छात्र को तमाचा रसीद कर बेसबॉल से मारा, जिसके बाद दूसरे छात्र भी वहां आ गए, आपस में झूमाझटकी के दौरान ही डायल 100 वहां पहुंच गई और छात्रों को थाने ले गई.
-सिद्धांत प्रत्यक्षदर्शी छात्र

Related Posts: