बिजली गिरने से तेलंगाना, आंध्र प्रदेश में 9 की मौत, दिल्ली-यूपी में भी नुकसान

  • 70 उड़ानों के मार्ग बदले,9 फ्लाइट की लखनऊ में आपातकालीन लैंडिंग

नई दिल्ली,

मौसम में आए अचानक बदलाव और अंधड़ तूफान की वजह से उत्तर से दक्षिण भारत तक नुकसान की खबर है. दिल्ली-एनसीआर में धूल भरी आंधी और बारिश की वजह से करीब 70 उड़ानों के मार्ग बदलने पड़े हैं. फ्लाइट्स की आपातकालीन लैंडिंग भी करानी पड़ी है. दिल्ली में एक महिला की मौत हुई है जबकि 19 लोग घायल हुए हैं. वहीं, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में आकाशीय बिजली की चपेट में आकर 9 लोगों की मौत हुई है.

यूपी के संभल में भी ट्रैक्टर पर पेड़ गिर जाने की वजह से एक शख्स की मौत हो गई है. गाजियाबाद के लाल कुआं के पास भी इको कार पर एक पेड़ गिर जाने से एक शख्स की मौत हो गई. इस दुर्घटना में चार से पांच लोग घायल भी हुए हैं. यूपी के रामपुर में आंधी-तूफान के खतरे को देखते हुए सोमवार को स्कूल बंद करने का आदेश दे दिया गया है. बिजली गिरने की वजह से बुलंदशहर के गांव में झोपडिय़ों में आग भी लग गई.

रिपोर्ट के मुताबिक आंधी तूफान की वजह से दिल्ली जाने वाली 9 फ्लाइट को लखनऊ के चौधरी चरण सिंह इंटरनैशनल एयरपोर्ट पर आपातकालीन लैंडिंग करानी पड़ी है. एयर ट्रैफिक कंट्रोल ने खराब मौसम की वजह से इन फ्लाइट को दिल्ली में लैंड करने की अनुमति नहीं दी, इसलिए यह कदम उठाना पड़ा.

उधर, तेलंगाना व आंध्र प्रदेश में रविवार को आकाशीय बिजली की चपेट में आने से तीन किसानों सहित नौ लोगों की मौत हो गई. तेलंगाना के मंचेरिअल जिले में रविवार की सुबह आकाशीय बिजली के चपेट में आने से तीन किसानों की मौत हो गई जबकि आंध्र प्रदेश के उत्तर तटवर्ती श्रीकाकुलम जिले में छह लोगों की मौत हो गई.

तेलंगाना के मंचेरिअल जिले की घटना अरेपल्ली गांव में इन किसानों के खेत में हुई. पुलिस के अनुसार, किसान बारिश से अपनी धान की फसल को बचाने के लिए खेत गए थे. धूल भरी आंधी और बारिश के कारण रविवार शाम इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे (आईजीआईए) से 70 उड़ानों के मार्ग बदलने पड़े हैं.

प्रदेश में बढ़ी तपिश, कुछ स्थानों पर बारिश

भोपाल. मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ती तपिश के बीच आज दोपहर बाद प्रदेश के कुछ स्थानों पर मौसम में अचानक परिवर्तन आया और तेज हवाओं के साथ बारिश होने के कारण भीषण गर्मी से हल्की राहत मिली.

मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने बताया कि हरियाणा से नागालैण्ड के बीच बनी‘ट्रफ लाइन’जो उत्तरी मध्यप्रदेश से गुजर रही है. इसी के असर के चलते उत्तर एवं उत्तर पूर्वी क्षेत्रों रीवा, शहडोल, उमरिया, सतना सहित अन्य कुछ स्थानों पर दोपहर बाद अचानक मौसम बदला और वहां तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश हुई. इस बीच कुछ जगहों पर चने के आकार के ओले भी गिरने की सूचना है.

वहीं विभाग ने पिछले कई दिन से जारी भीषण गर्मी के बीच यलो अलर्ट जारी किया है. यलो अलर्ट के तहत मौसम की स्थितियों पर नज़र रखी जाती है. विभाग ने प्रदेश के कई जिलों खरगोन, खंडवा, बुराहनपुर, बड़वानी, दमोह, टीकमगढ़, छतरपुर, शाजापुर, दतिया, गुना, होशंगाबाद, ग्वालियर, अशोकनगर और श्योपुर जिले में कहीं कहीं लू चलने की भी आशंका जताई है.

दिल्ली पुलिस कंट्रोल रूम में फोन पर फोन

आंधी तूफान के दौरान पूरी दिल्ली से पुलिस कंट्रोल रूम में कुल 260 कॉल्स आईं. जानकारी के मुताबिक तेज हवा की चपेट में आकर 189 पेड़ गिरे, 40 जगहों पर खंभे और 31 जगहों पर दीवारें गिर गईं हैं. पांडव नगर में एक पेड़ की चपेट में आकर महिला की मौत हो गई है. इसके अलावा अलग-अलग जगहों पर 19 लोगों को मामूली चोटें भी आईं हैं.