guna 3गुना 15 फरवरी नससे. मामूली विवाद को लेकर शुरू हुऐ झगड़े ने शनिवार की रात उग्र रूप ले लिया.

इससे शहर की शांत फिजा में एक तनाव का वातावरण निर्मित हो गया. और प्रशासन को स्थिति संभालने के लिये अन्य जिलों से भी पुलिस बल को बुलाना पड़ा. दो समुदायों के बीच जहां शनिवार रात हुए तनाव के बाद रविवार प्रात: तक शहर में तनाव की स्थिति बनी रही. इससे निपटने के लिये पुलिस को पूरे दिन भारी मशक्कत करनी पड़ी. इस दौरान शहर के बाजर पूरी तरह से बंद रहे हांलकि बाजर की दुकानें खुलवाने में पुलिस और सामाजिक संगठनों द्वारा प्रयास किया गया. लेकिन अधिकतर दुकानदारों ने दकान बंद रखने ही अपनी भलाई समझी हांलकि दोपहर तीन बजे के बाद बाजारों में दुकानें खुलना शुरू हो गई जो शाम तक ख्ुालती रही,बन्द होती रही. वही इस मामले में आरोपियों की धरपकड़ के प्रयास पुलिस दिना भर करती रही. लेकिन पुलिस के उच्च अधिकारी इससे इंकार करते रहे.गोरतलब है की गत दिवस करनेल गंज स्थित छात्रावास में रखें एक रोलर में एक विषेश वर्ग के कुछ लोगों द्वारा तोडफ़ोर का विरोध किया गया. तो इनके द्वारा हमला बोल दिया गया जिसमें तीन चार लोगों को गंभीर चौट आई.
शादी विवाहों पर पड़ा

उपद्रव का असर- इस सारे उपद्रव का खमियाजा नगर में सम्पन्न हो रही शादियों पर देखने में नजर आया. नगर में विवाह के दौरान आयोजित भोज में जाने वालों लोग उपद्रव का समाचार सुनते ही अपने अपने घरों में वापस हो गये. जिससे मेजबान को भी भारी समस्या का समाना करना पड़ा. वही नगर में निकल रही बारातों को भी पुलिस ने शीघ्रता से अपने गन्तव्य की ओर रवाना कर दिया.

हाट के बाबजूद नहीं खुले बाजार– रात को हुए हुए उपद्रव के बाद रविार को हाट होने बाबजूद बाजार पूरी तरह से बंद रहे. हांलाकि पुलिस प्रशासन और सामाजिक संगठनों ने दुकानदारों से दुकानें खुलने का अनुरोध किया था. लेकिन व्यापरियों ने अपनी दुकानें बंद रखने में भलाई समझी और हांलाकि शाम तक अधिकांश दुकानें खुल चुकी थी. शनिवार की रात हुए उपद्रव के दौरान उपद्रवियों ने कर्नलगंज शीतला माता मन्दिर के पास सहित अन्य स्थानों पर एक वर्ग विषेश के खड़े चार पहिया और दो पहियों वाहनों में ताडफ़ोड़ व आगजनी की. इस दौरान उपद्रवीयों ने नगर में स्थित एक माल को भी नुकसान पहुचाया इससे लाखों रूपयों का नुकसान वाहन मालिकों को पहुचा था.

पकड़ा-धकड़ी शुरू– उपद्रव के बाद पुलिस ने उपद्रव फलने वाले लोगों की धर पकड़ शुरू कर दी. शहर के हाट रोड़ व कनर्ल गंज इलाके से पुलिस ने कुछ युवकों को पकड़ा. लेकिन पुलिस इस बात से इंकार करती रही. हाट रोड़ एक मिठाई की दुकान पर बैठे 3-4 लोगों को पुलिस ने संदेह के आधार पर पकड़ा , हांलाकि दुकानदार का कहना है कि उसका पुत्र दुकान पर बैठा था और ग्राहक लोग नाश्ता कर रहे थे. पुलिस उन्हे जबरन उठाकर ले गयी.

Related Posts: