हाईप्रोफाइल लाइफ स्टाइल के हैं शौकीन

भोपाल,

एटीएम में नगद राशि जमा करने में गड़बड़ी करने वाले दोनों आरोपियों के पास से पुलिस ने 30 लाख रुपए बरामद कर लिए हैं. पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है. पुलिस का कहना है कि हो सकता है इस मामले में अन्य आरोपी भी संलिप्त हों. पुलिस मामले की जांच में जुटी है. पुलिस ने आरोपियों को रिमांड पर लिया हुआ है.

पुलिस के मुताबिक लोजी केश कंपनी के कर्मचारी पूरन पांडे व नवनीत सिंह द्वारा लंबे समय से पैसों के जमा करने में गड़बड़ी की जा रही थी.

पूरन पांडे ने जहां बीई द्धितीय वर्ष तक पढ़ाई की है, जबकि नवनीत सिंह ने हार्डवेयर का कोर्स किया हुआ है. हाल ही में एसबीआई ने ऑडिट के दौरान गड़बड़ी पकड़ी थी, जिसके बाद एसबीआई ने ऑडिट कराया था. जब ऑडिट हुई तो 83.81 लाख की गड़बड़ी पाई गई.

पुलिस ने बताया कि आरोपी लग्जरी लाइफ के शौकीन है, और इनके द्धारा अय्याशी पर भी रुपए खर्च किए जाते थे. पुलिस को यह भी जांच में आया कि आरोपी इस बात को लेकर आश्वस्त थे कि वे पकड़े नहीं जाएंगे क्योंकि वे कम राशि जमा करने के बाद भी डिमांड के अनुरूप दी गई राशि का प्रिंट आउट निकाल लेते थे. आरोपियों की पूछताछ में सामने आया है कि ये लोग तनख्वाह तक नहीं निकालते थे. पुलिस आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी है.

बैंक कर्मचारियों से भी होगी पूछताछ

पुलिस अधीक्षक राहुल कुमार लोढा ने बताया कि एटीएम खोलने की चाबी व कोड़ नंबर कस्टोडियल के पास रहता है. पर्ची ज्यादा राशि की निकालकर आरोपी कम पैसे डालते थे. पुलिस इस संदर्भ में भी जांच कर रही है कि बैंकों ने कब कब एटीएम का ऑडिट कराया, साथ ही लंबे समय से ऑडिट नहीं कराए जाने को लेकर भी बैंक व लॉजीकेश कंपनी के अधिकारियों से पूछताछ की जाएगी.

Related Posts: