शिवसेना की सदस्यता लेते हुए राजेंद्र नामदेव

मामला वापस लेने के लिए बना रहे दबाव

  • भाजपा से निकाले जाने के बाद ली शिवसेना की सदस्यता

नवभारत न्यूज भोपाल,

एसिड अटैक पीडि़त युवती से छेड़छाड़ व ज्यादती की कोशिश करने के मामले में घिरे सिलाई कढ़ाई बोर्ड के पूर्व उपाध्यक्ष राजेंद्र नामदेव पर युवती ने जान से मारने की धमकी देने व केस वापस लेने के लिए धमकी देने का आरोप लगाया है.

प्रकरण में गुरुवार को भोपाल की कोर्ट में इस युवती के बयान दर्ज हुए हैं. कोर्ट में मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश हुई युवती ने कहा कि राजेंद्र नामदेव केस वापस लेने के लिए दबाव बना रहे है, साथ ही केस वापस न लेने पर जान से मारने की धमकी दे रहे है. युवती ने पुलिस पर आरोप लगाया कि गत 19 फरवरी को केस दर्ज होने बाद अब तक नामदेव को गिरफ्तार नहीं किया है. वहीं बीजेपी से निष्काषित किए गए राजेंद्र नामदेव ने शिवसेना की सदस्यता पंजाब में ग्रहण कर ली है.

हनुमानगंज पुलिस थाने में एसिड अटैक पीडि़त युवती ने 19 फरवरी को राजेंद्र नामदेव के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी. युवती ने आरोप लगाया कि राजेंद्र नामदेव ने नवंबर 2017 में भोपाल की राजदूत होटल में उसके साथ छेड़छाड़ की तथा ज्यादती करने की कोशिश की थी.

मामला सामने आने के बाद पुलिस ने उन्हें पूछताछ के लिए थाने भी बुलाया था, लेकिन बीमारी का हवाला देकर वे अस्पताल में भर्ती हो गए थे. यहां बता दें कि युवती मूलत: सिवनी जिले की रहने वाली है और उस पर वर्ष 2016 में एसिड अटैक हुआ था. एसिड पीडि़ता मदद के लिए उनके संपर्क में आई थी. पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है.

डर की वजह से नहीं करा पा रही थी एफआईआर

कोर्ट के बाहर मीडिया से चर्चा में युवती ने कहा कि विगत चार महीनों से वह एफआईआर दर्ज कराना चाह रही थी, लेकिन धमकियों की वजह से उसकी हिम्मत नहीं हो पा रही थी. जब वह तंग आ गई तब उसने मामला दर्ज कराया. युवती ने मांग की कि आरोपी को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए.

Related Posts: