ई-बहन का प्यार बचपन से लेकर बड़े होने तक कभी भी कम नहीं होता. ये दोनों कभी भी एक-दूसरे को दुखी नहीं देख सकते. यह रिश्ता बहुत ही अनोखा होता है. इस रिश्ते में जितनी ज्यादा नोंक-झोंक, एक-दूसरे पर खीझना, चिल्लाना होता है, उतना ही ज्यादा प्यार और दुलार भी होता है.

शादी के बाद भी बहन को अपने ससुराल घर में होते हुए भी अपने भाई की चिंता सताती रहती है. वह अपने बचपन की बातों, छोटी-छोटी लड़ाई झगड़ो को कभी भूल नहीं पाती. आज हम आपके इस प्यारे से रिश्ते की कुछ ऐसे लम्हें बताने जा रहें है, जिन्हें आप कभी भी नहीं भूल सकते और केवल भाई-बहन ही समझ सकते है.

1. बचपन में रिमोट से लेकर अपने खिलौनों की कमरे में जगह बनाने के लिए बहुत झगड़े होते हैं. जिसे कोई भी नहीं भूल पाता.

2. जब कभी किसी गलती के कारण पेरेंटस से किसी एक को डांट पड़ती हो और पेंरेंटस के जाने के बाद दूसरे से बदला लेने का मौका ढूंढना.

3. डांट पड़ते समय एक-दूसरे को चिढ़ाने के लिए कुछ अजीब तरह के मुंह बनाने.

4. भाई कभी अपने मौके फायदा उठाना नहीं भूलते क्योंकि वही जानता होता है कि उसकी बहन को किन-किन चीजों से डर लगता है और यह शैतानी तो शादी के बाद भी छोड़ता.

5. यह दर्द सिर्फ भाई ही समझ सकता है, जिसकी बहन ने उसे लडक़ी बनाने के लिए उसके नाखुनों पर नेलपेंट और उसकी चोटी बनाने की कोशिश की होगी.

6. भाई खेल-खेल में अपनी बहन से पापा को लगाई पुरानी शिकायत का बदला लेने का मौका नहीं छोड़ते.

Related Posts: