जबलपुर,   बरेला में बुधवार की सुबह बेड मॉर्निंग रहीं, जिला मुख्यालय से 20 किमी. दूर स्थित प्रसिद्ध शारदा मंदिर के सामने स्थित चाय पान की दुकान व घरों को एक हैवी लोडेड 12 चक्का ट्रक ने ध्वस्त करते हुए कईयों को रौंद दिया. जिसमें दो स्कूली बच्चों सहित 5 लोगों की मौत हो गई तो वहीं चार अन्य बुरी तरह घायल हो गये.

हादसे में अन्य कई के हताहत होने की खबर भी है, लेकिन प्रशासनिक स्तर पर पांच की मौत और चार के घायल के होने की पुष्टि की गई है. हादसे के बाद पुलिस वालों के साथ मारपीट कर पथराव व वाहन को भीड़ ने आग के हवाले कर दिया.
मंडला की ओर से जबलपुर आ रहे 12 चक्का हैवी ट्रक क्रमांक सीजी-08-2526 सुबह करीब 8.30 बजे बरेला शारदा मंदिर के पास पहुंचकर अनियंत्रित होकर टैंकर को टक्कर मारते हुए चाय पान के ठेलों को चरपट कर मकानों में जा घुसा.

जिससें वहां स्कूल जाने के लिये खड़े दो बच्चो समेत पांच लोगों की मौत हो गई जबकि चार लोग बुरी तरह घायल हो गये. हादसे के बाद पूरे क्षेत्र में चीख पुकार मच गई और देखते ही देखते भारी भीड़ मौके पर एकत्रित हो गई. सूचना के बाद देर से पहुंची बरेला पुलिस पर लोगों का आक्रोश फट पड़ा और भीड़ हटाने पुलिस बल द्वारा किये गये बल प्रयोग के बाद आक्रोशित लोगों ने पथराव कर सीएसपी व टीआई सहित पुलिस कर्मियों के साथ मारपीट कर दी. जिसमें पुलिस कर्मी जान बचाकर भागे. जिसके बाद अक्रोशित भीड़ ने पुलिस वाहन को आग लगाकर फूंक दिया.

इसके बाद शहर से अतिरिक्त पुलिस बल व अधिकारी मौके पर पहुंचे. इस दौरान मंडला हाइवे पर आक्रोशित लोगों ने जाम लगा दिया. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने उक्त हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री राहत कोष से तत्कालीक सहायता राशि के रूप में मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख रुपये व घायलों 25-25 हजार रुपये देने की घोषणा की है.

Related Posts: