नयी दिल्ली,

उच्चतम न्यायालय जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा कठुआ सामूहिक बलात्कार एवं हत्या मामले के गवाहों को दी जा रही यातनाओं की शिकायत वाली याचिका पर बुधवार को सुनवाई करेगा।

मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली तीन-सदस्यीय खंडपीठ ने मामले के नाबालिग आरोपी के दोस्त साहिल शर्मा एवं अन्य की याचिका की सुनवाई के लिए सहमति जताते हुए 16 मई की तारीख मुकर्रर की है।

याचिकाकर्ताओं ने कहा है कि उन्होंने अपने बयान पुलिस एवं मजिस्ट्रेट के समक्ष दर्ज करा दिये हैं, लेकिन उन्हें फिर से पेश होने और बयान दर्ज कराने के लिए कहा जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि शीर्ष अदालत ने गत सात मई को कठुआ सामूहिक बलात्कार एवं हत्या मामले की सुनवाई पंजाब के पठानकोट स्थानांतरित कर दी थी। न्यायालय ने हालांकि मामले की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से जांच कराने संबंधी आरोपियों का अनुरोध ठुकरा दिया था।

Related Posts: