ऐसा करने वाला देश का पहला शहर बना भोपाल, रोशनपुरा चौराहे पर प्रसारित होगा संदेश

  • महापौर आलोक शर्मा ने किया रेडियो का लोकार्पण

भोपाल,

स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 के अंतर्गत कबाड़ से जुगाड़ नवाचार में रेडियो बनाने वाला भोपाल शहर देश का पहला शहर बन गया है. महापौर आलोक शर्मा द्वारा स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 के अंतर्गत नागरिकों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता के साथ घरों में रखे जूना पुराना सामान (कबाड़) को वेंडर के माध्यम से खरीद कर स्वच्छता का संदेश दिया है वहीं इस कबाड़ से जुगाड़ कर कबाड़ी वाला डाटकाम के सहयोग से रोशनपुरा चौराहे पर आकर्षक रेडियो बनाया है.

महापौर आलोक शर्मा ने उक्त रेडियो का शुभारंभ करते हुए स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में भोपाल शहर को देश का सबसे स्वच्छ शहर बनाने हेतु नगर निगम द्वारा किये जा रहे नवाचारों का उल्लेख किया. महापौर शर्मा ने कहा कि रोशनपुरा पर कबाड़ से जुगाड़ कर अपने प्रकार का प्रथम रेडियो बनाने वाला भोपाल देश का पहला शहर बन गया है. यह रेडियो नागरिकों को स्वच्छता का संदेश देगा.

इस मौके पर निगम आयुक्त प्रियंका दास ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 के तहत निगम द्वारा शहर में स्वच्छता हेतु किये जा रहे कार्यो का उल्लेख करते हुए कहा कि महापौर द्वारा स्वयं शहर के विभिन्न क्षेत्रों में जाकर कबाड़ वेंडर के माध्यम से खरीदा और उससे कबाड़ी डाटकाम के माध्यम से यह रेडियो बनाया गया है. उन्होंने कहा कि भोपाल नगर निगम इस नवाचार में पहला शहर बना है.

इस मौके पर मंगलवारा एवं बुधवारा की थर्ड जेंडर टोलियों द्वारा मंगलगीत ‘‘हो रही गलियों में सफाई’’ गाया. कार्यक्रम में चौकी इमामवाड़ा के सै.जावेद हुसैन ने कबाड़ से जुगाड़ कर बनाये गये विभिन्न प्रकार की सामान की प्रदर्शनी लगाई थी.जिसका महापौर सहित अन्य अतिथियों ने अवलोकन कर हुसैन की हुनर की सराहना की.

12 नंबर स्टॉप को जनसुविधा केन्द्र की सौगात

स्वच्छ भारत मिशन (शहरी योजना अंतर्गत) वार्ड क्र. 49 के 12 नंबर स्टॉप न्यू इन्द्रा नगर में नवनिर्मित सुलभ जनसुविधा केन्द्र का लोकार्पण महापौर आलोक शर्मा ने स्थानीय विधायक सुरेन्द्रनाथ सिंह, निगम परिषद अध्यक्ष डॉ. सुरजीत सिंह चौहान की उपस्थिति में फीता काटकर किया.

नगर निगम द्वारा सुलभ इन्टरनेशनल सोशल सर्विस आर्गनाईजेशन के माध्यम से लगभग 20 लाख रुपये की लागत से 16 सीटर जनसुविधा केन्द्र का निर्माण कराया गया है जिसमें महिलाओं, पुरूषों की पृथक-पृथक व्यवस्था के साथ ही दिव्यांग एवं बच्चों के लिए भी एक-एक सीट की व्यवस्था की गई है. इस जनसुविधा केन्द्र के निर्माण से इस क्षेत्र के रहवासियों एवं व्यवसायियों एवं मार्केट आने वाले नागरिकों को सुविधा होगी.

Related Posts: