बेंगलुरु,

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कर्नाटक में किसानों की दुर्दशा का ठीकरा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर फोड़ते हुए आज आराेप लगाया कि राज्य के किसानों की कर्ज़ माफी के लिए केन्द्र ने एक रुपया भी नहीं दिया है और न ही उनकी फसल की लागत का डेढ़ गुना मूल्य दिलाया।

श्री गांधी ने ट्वीटर पर कर्नाटक में खेती की स्थिति पर श्री मोदी का एक ‘रिपोर्ट कार्ड’ जारी किया जिसमें उन्होंने कहा है कि कांग्रेस शासित राज्यों ने किसानों के ऋण माफ करने के लिए 8500 करोड़ रुपए व्यय किये हैं जिनमें केन्द्र सरकार का एक रुपये का भी योगदान नहीं है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में किसानों को कुछ नहीं मिला और निजी बीमा कंपनियों ने मोटा मुनाफा कमाया है। किसानों को उनकी फसल के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य का डेढ़ गुना मूल्य भी नहीं मिला। कुल मिलाकर रिपोर्ट कार्ड में उन्होंने श्री मोदी को ग्रेड-एफ (यानी फेल) दिया है।

गौरतलब है कि कृषि संविधान की समवर्ती सूची में शामिल है, यानी यह विषय केन्द्र एवं राज्य दोनों का है। राज्य सरकार क्रियान्वयन के लिए जिम्मेदार है।

Related Posts: