नगर निगम परिषद की बैठक आज

नवभारत न्यूज भोपाल

शहर के आवारा कुत्तों के मसले पर निगम परिषद की बैठक में हंगामे के आसार हैं. यह बैठक आज आईएसबीटी सभागार में सुबह 10:30 बजे से होगी.

दरअसल कांग्रेस पार्षदों में इस बात को लेकर नाराजगी है कि कुत्तों की नसबंदी के नाम पर नगर निगम नवोदय वेट सोसाइटी को बेवजह लगभग डेढ़ करोड़ रुपए की राशि सालाना दे रहा है, जो कि यह सोसाइटी को सौंपे गए दायित्वों का निर्वहन नहीं कर रही है .

वजह यह भी है कि कांग्रेस पार्षद सूरज नगर स्थित इस संस्था के कार्यालय पर पहुंचे थे, जहां न केवल अव्यवस्थाएं मिलीं, बल्कि स्थानीय निवासियों से बातचीत में यह भी पता चला कि यह कभी-कभी ही खुलता है. यह सभी नेता प्रतिपक्ष मोहम्मद सगीर के नेतृत्व में पहुंचे थे.

इस दल में पार्षद योगेंद्र सिंह चौहान, मोनू सक्सेना, मनजीत महाराज प्रमुख रूप से शामिल थे. मीडिया से चर्चा करते हुए पार्षद मोनू सक्सेना ने कहा कि बड़े स्तर पर घोटाला किया जा रहा है और यह बिना निगम प्रशासन के सहयोग के संभव नहीं है. उन्होंने कहा कि संस्था के कामकाज का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि डॉक्टर अमरदीप किसी तरह का कोई जवाब दे पाए और ना ही वह कुत्तों की नसबंदी से संबंधित कोई रजिस्ट्री दिखा पाए.

यह पूरा का पूरा घोटाला भाजपा नेताओं के संरक्षण में किया जा रहा है, बिना काम का भुगतान कर रहा है. वहीं दूसरी ओर कांग्रेस पार्षद योगेंद्र सिंह गुड्डू चौहान ने इस बात पर आश्चर्य किया वर्ष 2013 से सालाना 22,000 कुत्तों की नसबंदी का दावा करने वाली इस संस्था पर विश्वास किया जाए तो लगभग एक लाख कुत्तों की नसबंदी हो जानी चाहिए थी, लेकिन जिस हिसाब से शहर में आवारा कुत्तों का आतंक है.

इससे यह पता चलता है कि यह संस्था दायित्वों का निर्वहन नहीं कर रही है. पार्षद मनजीत मारण का कहना था, कि हम जब निरीक्षण के लिए पहुंचे तो झाड़ू लगाया जा रहा था. यहां बता दें कि नगर निगम परिषद की बैठक अध्यक्ष सुरजीत सिंह चौहान की अध्यक्षता में होगी.

महत्वपूर्ण बात यह है कि बीते दिनों आवारा कुत्तों ने दो साल के मासूम को नोच ड़ाला था जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई थी. बैठक में 7 विषयों पर विचार किया जाएगा. इसमें मोटर व्हीकल पर बने फूड सेंटर को अनुमति देने का प्रावधान भी शामिल है. कांग्रेस का तर्क है कि यह सरासर परिवहन नियमों का उल्लंघन है और नगर निगम इसकी अनुमति नहीं दे सकता है.

इसके अलावा भाजपा नेताओं द्वारा कराई जा रही अवैध पार्किंग में वसूली का मुद्दा भी चर्चा का विषय बन सकता है जा सकता है. इस दौरान कुल सात एजेंडों को अनुमति दी जाएगी लेकिन आज आयोजित होने वाली बैठक आज आइएसबीटी सभागार में आयोजित की जाएगी.

Related Posts: