दोहा,

चेक गणराज्य की पेत्रा क्वितोवा ने सेट हारने के बाद जबर्दस्त वापसी करते हुए स्पेन की गरबाइन मुगुरुजा को हराकर कतर ओपन टेनिस टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम कर लिया। क्वितोवा ने इस खिताबी जीत के साथ ही विश्व रैंकिंग में शीर्ष 10 में फिर से वापसी कर ली।

दो बार की विंबलडन चैंपियन क्वितोवा ने यहां रविवार को खेले गए फाइनल में चौथी वरीयता प्राप्त मुगुरुजा को दो घंटे 16 मिनट तक चले मुकाबले में 3-6, 6-3, 6-4 से शिकस्त देकर सत्र का लगातार दूसरा खिताब अपनी झोली में डाल लिया। उनकी यह 22वीं डब्ल्यूटीए खिताब है। 16वीं वरीयता प्राप्त क्वितोवा की यह लगातार 13वीं जीत है।

27 साल की क्वितोवा ने दो सप्ताह पहले ही सेंट पीटसबर्ग में इस वर्ष का पहला खिताब जीता था। उनकी इस वर्ष शीर्ष 10 खिलाड़ियों के खिलाफ यह छठी जीत है। क्वितोवा जब यहां टूर्नामेंट खेलने आई थी तो उस समय वह 21वें नंबर पर थी। लेकिन इस खिताबी जीत के बाद अब वह 11 स्थानों की छलांग लगाएगी और सोमवार को जारी होने वाली ताजा रैंकिंग में शीर्ष 10 में पहुंच जाएगी।

चेक खिलाड़ी ने इससे पहले सेमीफाइनल में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी और आस्ट्रेलियन ओपन चैंपियन डेनमार्क की कैरोलिन वोज्नियाकी को हराकर फाइनल में प्रवेश किया था। क्वितोवा पर दिसंबर 2016 में चाकू से हमला हुआ था उसके बाद से वह पहली बार शीर्ष-10 में लौटी हैं।

यह पूछने पर कि आपने मुकाबले में कैसे वापसी की, कतर की नई क्वीन क्वितोवा ने कहा,“ इस बारे में मेरे पास कोई जवाब नहीं है। मैंने सिर्फ कोशिश की। लेकिन यह बहुत ही कड़ा मुकाबला था और मुझे उम्मीद है कि दर्शकों ने इसका भरपूर आनंद लिया होगा।”

शीर्ष-10 में फिर वापसी करने को लेकर उन्होंने कहा,“ एक साल पहले, मैंने इसके बारे में सोचा भी नहीं था। शीर्ष 10 में फिर से लौटना मेरे लिए बेहद सुखद अहसास है।”

Related Posts: