पुणे,

मुंबई से लगभग 100 किलोमीटर दूर खंडाला अस्पताल में एक जख्मी मजदूर की आज मृत्यु हो जाने से हादसे में मरने वालों की संख्या 18 हो गयी।

पुलिस सूत्रों के अनुसार पुणे-सतारा राजमार्ग पर खंडाला के समीप खंबाटकी घाट के पास आज तड़के ट्रक के पलटने से उसमें सवार 17 मजदूरों की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी जबकि 15 अन्य घायल हो गये थे।

इस हादसे में मारे गये सभी मजदूर कर्नाटक के रहने वाले हैं और कर्नाटक के बीजापुर से पुणे आ रहे थे लेकिन चालक के नियंत्रण खो देने के कारण खंबाटकी घाट के समीप वाहन पलटने से पहले रास्ते के अवरोध से टकरा गया।

घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच कर घायलों को तुरंत समीप के अस्पताल में भर्ती कराया और पुलिस अब घटना के कारणों की जांच कर रही है। उन्हें आशंका है कि चालक के नींद आने से वाहन पर नियंत्रण खो देने के कारण यह दुर्घटना हुयी होगी।

मृतकों की शिनाख्त हो चुकी है जिसमें माधवी अनिल राठौर (45), शंकर रेखू चौहान (55), संतोष काशीनाथ नायक (32) मंगलाबाई इंदु नायक (42) कृष्णा सोनू पवार (60) किरण विठ्ठल राठौर (15) देवबाई मोहन राठौर (27), संगीता किरण राठौड़ (26), देवानंद नारायण राठौड़ (35), प्रियंका कुल्लु राठौर (18), कालूबाई विठ्ठल राठौर (35), तनवीर किरण राठौर (2 वर्ष), विठ्ठल खेरू राठौर (40), अर्जुन रमेश चव्हाण (30), श्रीकांत बसु राठौर (38), सिन्नू बसु राठौर (30), मेहबूब राजाराम अत्तार (55) और मजीद मेहबूब अत्तार (25) शामिल हैं।