mp2भोपाल,  प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि खाचरोद में मटर प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित करने के लिये हरसंभव प्रयास किये जायेंगे।

श्री चौहान उज्जैन जिले के खाचरोद में अंत्योदय मेले में बोल रहे थे। उन्होंने कलेक्टर उज्जैन को इस यूनिट की स्थापना के लिये भूमि रिजर्व करने के निर्देश दिये। उन्होंने मण्डी में मटर विक्रय करवाने को भी कहा। उन्हाेंने इसके पहले 5 विभिन्न स्थान पर 466 करोड़ 51 लाख की लागत के विकास कार्य का भूमि-पूजन और लोकार्पण किया।

उन्होंने खाचरोद में 10 करोड़ की लागत से गरीबों के लिये प्रथम चरण में 200 आवास बनवाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि खाचरोद में प्री-मेट्रिक छात्रावास भी खोला जायेगा। राज्य शासन नगर परिषद के ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिये 25 लाख रूपये और नगर की आधुनिक कार्य-योजना बनाने के लिये 39 लाख रूपये देगा।

खाचरोद में स्वीमिंग पुल का निर्माण भी करवाया जायेगा। नगर के अंदर सड़क निर्माण के लिये स्टीमेट तैयार करवाने के बाद राशि दी जायेगी। उन्होंने खाचरोद विधानसभा में निवासरत अनुसूचित जनजाति वर्ग की बस्तियों में मूलभूत सुविधाओं के लिये 2 करोड़ रूपये देने की घोषणा भी की।

मुख्यमंत्री ने शासकीय विक्रम महाविद्यालय परिसर खाचरोद में जिम्‍नेशियम हॉल का लोकार्पण कर महाविद्यालय में अगले शैक्षणिक सत्र से एम.एस.सी. की कक्षाएँ शुरू करवाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय परिसर में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा स्थापित की जायेगी।

श्री चौहान ने उत्कृष्ट विद्यालय परिसर में 80 लाख की लागत से बनने वाले स्टेडियम का भूमि-पूजन किया। उन्होंने नगर पालिका द्वारा 22 करोड़ की लागत से नगर में पेयजल सप्लाई के लिए तैयार जल-आवर्धन योजना का लोकार्पण किया। इससे खाचरोद नगर के 34 हजार से अधिक रहवासी को पेयजल उपलब्ध होगा। 2 करोड़ 97 हजार रूपये की लागत से निर्मित मॉडल स्कूल का लोकार्पण करने के बाद खाचरोद के शासकीय महाविद्यालय परिसर में 20 लाख रूपये की लागत से निर्मित जिम्नेशियम हॉल का भी लोकार्पण किया गया।

उन्होंने पीएमजीएसवाय के 2 करोड़ 27 लाख की लागत से निर्मित खाचरोद-बड़लई मार्ग को भी लोकार्पित किया। साथ ही 64 करोड़ रुपये से बनने वाले खाचरोद-रतलाम मार्ग, 360 करोड़ की लागत से 60 मेगावाट पवन चक्की एनर्जी प्लांट और 22 लाख की लागत से तालाब को सुन्दर बनाने के काम का भी भूमि-पूजन अंत्योदय मेले में किया।

अंत्योदय मेले में प्रदेश सरकार की जन-हितैषी योजनाओं में 7,280 हितग्राही को 22 करोड़ से अधिक की धनराशि से लाभान्वित किया गया। सामाजिक न्याय विभाग द्वारा दिव्यांगों को आधुनिक बैट्री चलित ट्रायसिकल, बैशाखी, श्रवण यंत्र और व्हील चेयर भी दिये गये।

इस अवसर पर केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत, स्कूल शिक्षा मंत्री पारस जैन, सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय, विधायक दिलीपसिंह शेखावत और बहादुरसिंह चौहान उपस्थित थे।

 

Related Posts:

रामदेव पर हमला आरएसएस की साजिश : दिग्विजय
मुख्यमंत्री चौहान द्वारा महाशिवरात्रि पर पूजा-अर्चना
प्रदेश में मॉडल औद्योगिक केन्द्र विकसित होंगे
राहुल और बुद्धदेव ने एक मंच से किया ममता सरकार को हराने का आह्वान
सिद्ध योगी की तरह मोदी ने किया योगासन
शंकराचार्य विवाद पर उच्च न्यायालय 22 सितम्बर को सुनायेगा फैसला