मां-बेटे की मौत के बाद किया हंगामा

भोपाल,गांधी नगर थाने के सामने प्रदर्शन कर रहे पारदी समुदाय के लोगों पर पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी. उनका आरोप था कि झूठे मामले में एक महिला को फंसाया गया था और बाद में उसने खुदकुशी कर ली.बताया जा रहा है कि आरोपी बनाई गई महिला की मौत के बाद उसके बेटे ने भी फांसी लगा ली, जिससे लोग काफी नाराज हो गए और पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग करने लगे. 

मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि गांधी नगर निवासी इंद्रमलबाई से पुलिस ने बीस हजार रुपए की मांग करते हुए उसे एक मामले में फंसाने की धमकी दी थी, घर आकर उसने कैरोसिन डालकर आत्महत्या का प्रयास किया. बाद में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई. मां की मौत के बाद उसके बेटे ने भी रविवार को आत्महत्या कर ली.

जिसके बाद लोगों को गुस्सा फूट पड़ा. करीब तीन सौ लोग थाने तक पहुंच कर हंगामा करने लगे. बाद में दो अन्य थानों से पुलिस बल भी यहां बुला लिया गया. पुलिस ने लोगों को हंगामा न करने की सलाह दी और घर जाने के लिए कहा लेकिन वे नहीं माने.

बताया जा रहा है कि इस बीच पुलिस ने बल पूर्वक उन्हें खदेड़ा जिससे आधा दर्जन लोग घायल हुए हैं. बताया जा रहा है कि उच्चाधिकारी अब इस मामले की जांच कर रहे हैं. पुलिस का कहना है कि मृत इंद्रमल बाई को किसी भी मामले में आरोपी नहीं बनाया गया था. उससे एक मामले में पूछताछ की गई थी. देर शाम तक गांधी नगर के पारदी समुदाय में आक्रोश बना हुआ था.

Related Posts: