संत हिरदाराम नगर स्टेशन के समुचित विकास की जरूरत

  • 16 ट्रेनों का हो स्टापेज

संत हिरदाराम नगर,

संत नगर की सामाजिक संस्था सिंधी सेन्ट्रल पंचायत ने कहा है कि यहां के रेलवे स्टेशन को पश्चिम रेल मण्डल रतलाम से हटाकर भोपाल में शामिल करने एवं स्टेशन का नाम संत हिरदाराम नगर किए जाने के बाद अब इस स्टेशन को भोपाल मुख्य रेलवे स्टेशन तथा हबीबगंज स्टेशन की तरह विकसित किए जाने की सख्त जरूरत है.

यात्री सुविधाओं की मांग सहित अन्य समस्याओं के निराकरण के लिए पंचायत ने केन्द्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल व चेयरमेन अश्विनी लोहानी से मिलकर ज्ञापन देने का निर्णय लिया है. सिंधी सेन्ट्रल पंचायत के संस्थापक नानक चंदनानी, संरक्षक प्रकाश मीरचंदानी, अध्यक्ष एनडी खेमचंदानी, महासचिव सुरेश जसवानी ने कहा है कि स्टेशन को भोपाल रेल मण्डल में शामिल करने के बाद अब यहां यात्री सुविधाओं के विस्तार के जरूरत है.

मिलेंगे रेल मंत्री से, देंगे ज्ञापन

पंचायत महासचिव सुरेश जसवानी ने बताया कि कल सोमवार अथवा मंगलवार को केन्द्रीय रेल मंत्री पीयूश गोयल एवं चेयरमेन अश्विनी लोहानी भोपाल आ रहे हैं और पंचायत ने तय किया है कि उनसे मुलाकात कर बैरागढ़ रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर संत हिरदाराम नगर किए जाने एवं पश्चिम रतलाम से हटाकर भोपाल रेल मण्डल में शामिल करने के लिए आभार व्यक्त करने के साथ स्टेशन पर समुचित यात्री सुविधाएं मुहैया कराने एवं समस्याओं को दूर करने की मांग की जाएगी.

लम्बी दूरी की 16 ट्रेनों का वर्तमान में स्टापेज नहीं है, उनके यहां स्टापेज से न केवल भोपाल रेलवे स्टेशन का बोझ कम होगा, कारोबारियों को इनके स्टापेज की जरूरत है.

200 एकड़ जमीन, टर्मिनल की जरूरत

पंचायत पदाधिकारियों ने कहा है कि यहां के स्टेशन के उत्तरी दिशा में लगभग 200 एकड़ जमीन खाली पड़ी है, जहां तीन से चार अतिरिक्त प्लेटफार्म का निर्माण हो सकता है. भोपाल स्टेशन का बोझ कम करने के लिए यहां के स्टेशन को टर्मिनल के रूप में विकसित किए जाने की जरूरत है क्योंकि वर्तमान में यहां जितनी भी ट्रेनों का स्टापेज है, वहां से सर्वाधिक यात्री यहां के स्टेशन पर ही उतरनते व चढ़ते हैं क्योंकि यहां से भोपाल के विभिन्न इलाको में जाने के लिए पर्याप्त साधन उपलब्ध हैं. प्लेटफार्म का निर्माण कर पश्चिम दिशा के लिए मुम्बई, सूरत, बडोदा आदि शहरों के लिए नई ट्रेनें यहां से प्रारंभ की जा सकती हैं.

बनाएं कार्य योजना

पंचायत ने कहा है कि संत हिरदाराम नगर स्टेशन के विस्तार व समुचित विकास के लिए कार्य योजना बनाने की जरूरत है, जिसके अन्तर्गत प्लेटफार्म एक व दो पर ट्रेनों की लम्बाई के हिसाब से शेड के अतिरिक्त कोच गाईडेंस, स्वच्छ पानी व प्रसाधन की व्यवस्था के साथ ही सफाई का समुचित बंदोबस्त जरूरी है क्योंकि वर्तमान में पटरियों पर इतनी गन्दगी व बदबू है कि कोई यात्री प्लेटफार्म पर खड़ा भी नहीं हो पा रहा है.

तत्काल मरम्मत की जरूरत

पंचायत पदाधिकारियों ने कहा है कि प्लेट फार्म जर्जर हो चुका है. खासतौर पर प्लेटफार्म क्रमांक दो का फर्श उखड़ गया है अगर चलती ट्रेन में कोई यात्री सवार होना चाहे तो दुर्घटनाओं का भय बना रहता है. खासतौर पर जहां ट्रेन रूकती है, वह हिस्सा काफी क्षतिग्रस्त हो चुका है, जिसे तत्काल दुरूस्त करने की जरूरत है. वर्तमान स्टेशन व प्लेटफार्म कस्बाई लगता है. जिसकी सूरत बदले जाने की सख्त जरूरत है.

Related Posts: