वाशिंगटन,

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान और उत्तर कोरिया पर सैन्य कार्रवाई की जोरदार वकालत करने वाले और रूस के खिलाफ सख्त रुख अपनाने वाले जॉन बोल्टन को नया राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नियुक्त किया है।

श्री ट्रंप ने ट्वीट कर कहा कि श्री बोल्टन वर्तमान राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एचआर मैकमास्टर के स्थान पर नये राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार होंगे।श्री बोल्टन लंबे समय से अमेरिका की विदेशी नीति को तय करने वाले लोगों में से रहे हैं।श्री ट्रंप के 14 महीने के कार्यकाल में 69 वर्षीय श्री बोल्टन उनके तीसरे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार होंगे।

श्री बोल्टन श्री ट्रंप की राष्ट्रीय सुरक्षा टीम का अहम हिस्सा होंगे।श्री ट्रंप की इस टीम में विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन की जगह सीआईए प्रमुख माइक पोम्पेओ लेेंगे।श्री ट्रंप और श्री पोम्पेओ दोनों की सोच अमेरिका को शक्तिशाली राष्ट्र बनाने को लेकर एकदम मेल खाती है।

पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश के कार्यकाल में श्री बोल्टन विदेश विभाग में सेना के चोटी के अधिकारी थे।
उन्होंने वर्ष 2003 में इराक पर हमले की वकालत की थी।इराक के तत्कालीन राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन के आंतकवादियों के साथ संबंध और जैविक हथियार होने की खुफिया रिपोर्ट बाद में झूठी पायी गयी थी।

हाल में श्री बोल्टन को परमाणु हथियारों को लेकर उत्तर कोरिया के खिलाफ कड़ा रुख अपनाने और वर्ष 2015 में ईरान और विश्व के बड़े देशों के साथ हुए परमाणु समझौते को तोड़ने की वकालत करते रहे हैं।ईरान के परमाणु समझौते और उत्तर कोरिया के खिलाफ श्री ट्रंप का भी यही रुख रहा है।

Related Posts: