एटीएस करेगी जांच, रेल मंत्री ने की मुआवजे की घोषणा,
उड़ीसा में मालगाड़ी बेपटरी अर्चना एक्सप्रेस हादसे से बची

गोवा के मडगांव से पटना की ओर जा रही 12471 वास्कोडिगामा-पटना एक्सप्रेस शुक्रवार तड़के मानिकपुर स्टेशन के आउटर पर बेपटरी हो गई.

इस हादसे में जहां 4 यात्रियों की मौत हो गई वहीं डेढ़ दर्जन से अािक घायल हो गए. रेल मंत्रालय द्वारा मृतक के परिवारों को 5 लाख, घायलों को 1 लाख व 50 हजार रुपए देने की घोषणा करते हुए घटना की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं.

मडगांव से पटना की ओर जा रही वास्कोडिगामा एक्सप्रेस मानिकपुर स्टेशन पर 10 मिनट रुकने के बाद जैसे ही आउटर की ओर बढ़ी कि 4:18 बजे जोरदार झटके व आवाज के साथ एक-एक करके ट्रेन के 13 डिब्बे पटरी से उतरते चले गए.

दुर्घटना के बाद तकरीबन 20 मिनट में राहत प्रक्रिया शुरु कर दी गई. सबसे पहले घायल यात्रियों को इलाज के लिए चित्रकूट अस्पताल पहुंचाया गया.

ट्रेन की जनरल बागी में सवार रहे रामस्वरूप पटेल उम्र 30 वर्ष निवासी अमरसेक बेतिया व उसके 6 वर्षीय बेटे गोलू की मौत की खबर सबसे पहले सामने आई. जबकि एस 5 बोगी में यात्रा कर रहे मनोज व जयप्रकाश ने इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया.

Related Posts: