रेत वाहनों से अवैध वसूली पर गोलीबारी, एक घायल

नवभारत न्यूज भिण्ड

रेत के अवैध कारोबार के चलते बीते रोज एक बार फिर से दो पक्षों में गोलीबारी की गंभीर घटना हो गई।जिसमें एक व्यक्ति को गोली लगने से वह घायल हो गया। वहीं ऊमरी के ककाहरा रेत खदान पर कलेक्टर व एसपी की संयुक्त छापेमारी में अवैध उत्खनन कर रेत ले जा रहे दर्जन भर के करीब वाहन जप्त किए गए।

जिले में रेत के अवैध व्यापार को लेकर होने वाली घटनाओं में गुरुवार-शुक्रवार की दरम्यानी रात और इजाफा हो गया। यहां गिरवासा के पास रेत से भरे ट्रेक्टर और ट्रकों से नाका लगाकर अवैध वसूली करने पर दो गुटों के बीच गोली बारी हो गई।

स्थानीय सूत्रों के अनुसार गिरवासा में रेत की खदान से निकलने वाले वाहनों से अवैध रुप से पैसा वसूली का काम पूर्व सरपंच तुलसीराम और सरपंच राजेन्द्र शर्मा करते थे। जिनके द्वारा जबरन रेत से भरे वाहनों को रोक कर पैसे की उगाही की जाती थी।

बीते रोज एक ट्रक से पैसे वसूलने को लेकर दोनों पक्षों में कहासुनी हो गई। जिसको लेकर दोनों पक्षों में विवाद बढऩे पर आधी रात को गोलीबारी की घटना हो गई। इस वारदात में पूर्व सरपंच तुलसीराम गोली लगने से घायल हो गया। इस बीच असवार थाना पुलिस पूरे मामले को संदिग्ध बताते हुए जांच के बाद ही सही जानकारी होने की बात कह रही है।

अवैध रेत को बना रहे वैध

ज्ञात हो कि रेत के अवैध उत्खनन से जुड़े इस कारोबार में माफिया द्वारा बड़े संगठित रुप से वैध किया जा रहा है। ऊमरी क्षेत्र में खनिज विभाग द्वारा औझा खदान को ही स्वीकृत किया गया है।

लेकिन यहां आधा दर्जन से अधिक खदान अवैध तरीके से संचालित हो रही हैं। जहां से निकलने वाले रेत वाहनों को औझा खदान से रॉयल्टी जारी की जा रही है। जिसके चलते यहां से निकलने वाले वाहन रॉयल्टी के साथ अवैध रेत को वैध बता कर सप्लाई कर रहे हैं।

अवैध उत्खनन पर मारा छापा

इधर शुक्रवार के रोज दोपहर 3 बजे के करीब कलेक्टर इलैया राजा टी व एसपी प्रशांत खरे द्वारा ऊमरी अंतर्गत आने वाले ककाहरा गांव से सटी रेत खदान पर अचानक छापा मारा। भारी पुलिस बल के साथ छापा मारने पहुंचे अधिकारियों ने यहां बगैर रॉयल्टी रेत ले जा रहे दर्जन भर से अधिक ट्रक व ट्रेक्टर जप्त किए। हालांकि छापा मार टीम के पहुंचने से पहले ही यहां सक्रिय रेत माफिया को इसकी भनक लग गई थी, जिसके चलते खदान की घेराबंदी के बाद भी सभी खननकर्ता यहां से फरार हो गए।

अब मिलेगी लोगों को ऑनलाइन रेत

विदिशा. विभिन्न निर्माण कार्यों के लिये अब लोगों को खनिज विभाग से ऑनलाइन रेत मिल सकेगी. इसके लिये 10 फरवरी से पोर्टल प्रारंभ भी हो गया है. खास बात यह है कि पूर्व की तुलना में लोगों को पहले से कम रेट पर रेत उपलब्ध होगी.

2017 नई खनिज नीति के तहत जिले में चार रेत खदानें ग्राम पंचायतों को टांर्सफर की गई हैं. प्रारंभिक तौर पर चार खदानों ग्राम पंचायत हरगनाखेड़ी की झागर, कुरवाई की दुनातर, नटेरन की सूखा आमखेड़ा और सिरोंज की ढिमरौली खदान शामिल हैं. समस्त अनापत्तियां प्राप्त कर पंचायत द्वारा खदानों का संचालन प्रारंभ कर दिया गया है.

पंचायतें करेंगी खदानों का संचालन

खनिज अधिकारी रमेश पटेल ने बताया कि असंचालित खदानों को प्रारंभ कर पंचायतों को सौंपा गया है.नई खदानों को चिन्हित करने का कार्य किया जा रहा है. सभी विभागों से एनओसी प्राप्त कर पंचायतों से खदानों का संचालन कराया जायेगा.

ऐसे करें ऑनलाइन रजिस्टे्रशन

  • वेवसाइट ekhanij.mp.gov पर जायें.
  • इसके उपरांत ‘सेंड पोर्टल एमपी’ पर क्लिक करें.
  • इसके बाद यहां पर उपभोक्ता बुकिंग, व्यापारी बुकिंग एवं निर्माण विभाग के ठेकेदार तीन विकल्प दिखाई देंगे.
  • आवश्यकतानुरूप विकल्प का चयन कर फार्म को ओपन करें, जिसमें चाही गई जानकारी का विवरण भरने के साथ माल उठाव का विवरण भरें.

अवैध रेत खनन की सूचना पर ककाहरा में पुलिसबल के साथ कार्रवाई की गई। यहां से बड़ी संख्या में रेत से भरे ट्रक, व ट्रेक्टर को जप्त किया गया है। तीन घण्टे चली इस कार्रवाई के बाद सभी जप्त वाहनों के खिलाफ प्रकरण बनाए जाऐंगे।
-इलैया राजा टी, कलेक्टर भिण्ड

Related Posts: