भोपाल,

मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले के कोलारस और अशोकनगर जिले के मुंगावली विधानसभा उपचुनाव में तीन राउंड की मतगणना के बाद कांग्रेस प्रत्याशी अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से आगे चल रहे हैं।

कोलारस में तीन राउंड की गणना के बाद कांग्रेस प्रत्याशी महेंद्र सिंह यादव भाजपा के देवेंद्र जैन से लगभग पंद्रह सौ मतों से आगे हैं। वहीं मुंगावली में कांग्रेस के बृजेंद्र सिंह यादव अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी भाजपा की श्रीमती बाईसाहब यादव से तेरह सौ से अधिक मतों से आगे हैं। कोलारस में मतों की गिनती 23 और मुंगावी में 19 राउंड में होगी।

इस वर्ष के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव के पहले यह दोनों उपचुनाव काफी महत्वपूर्ण माने जा रहे हैं। सत्ता का सेमीफायनल माने जा रहे यह उपचुनाव मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए प्रतिष्ठा के प्रश्न बने हुए हैं। फिलहाल ये दोनों सीट कांग्रेस के कब्जे में थीं और दोनों ही विधानसभा क्षेत्र श्री सिंधिया के संसदीय क्षेत्र गुना के अधीन आते हैं।

गुना श्री सिंधिया का अभेद गढ़ माना जाता है। ये दोनों सीटें छीनने के लिए सत्तारूढ़ दल भाजपा ने अपने पूरे संसाधन झोंक दिए थे। दर्जनों मंत्री और प्रदेश स्तर के पदाधिकारी इन दोनों ही क्षेत्रों में चुनाव के कई महीनों पहले से सक्रिय थे।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार कोलारस में 22 और मुंगावली में 13 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होना है। कोलारस में मतगणना शासकीय आईटीआई कॉलेज तथा मुंगावली के वोटों की गिनती अशोकनगर जिला मुख्यालय स्थित शासकीय नेहरू डिग्री कॉलेज में हाे रही है।

कोलारस में मुख्य मुकाबला भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रत्याशी देवेंद्र जैन और कांग्रेस प्रत्याशी महेंद्र सिंह यादव के बीच है। वहीं मुंगावली में भाजपा ने बाईसाहब यादव और कांग्रेस ने बृजेंद्र सिंह यादव पर दांव खेला है। पिछले विधानसभा चुनाव में कोलारस से कांग्रेस के रामसिंह यादव और मुंगावली से पार्टी के ही महेंद्र सिंह कालूखेड़ा ने जीत हासिल की थी। दोनों के निधन के कारण उपचुनाव हो रहे हैं।

दोनों स्थानों पर उपचुनाव के लिए 24 फरवरी को मतदान हुआ था। कोलारस में 70़ 46 प्रतिशत और मुंगावली में 77.05 फीसदी मत डाले गए थे। कोलारस में दो लाख 44 हजार 457 मतदाताओं में से एक लाख 72 हजार 115 ने वोट डाले। मुंगावली में एक लाख 91 हजार नौ मतदाताओं में से एक लाख 47 हजार 164 ने अपने मताधिकार का उपयोग किया।

 

Related Posts: