नवभारत न्यूज सिंगरौली,

बुधवार एवं गुरूवार की मध्य रात्रि के समय तूफान के ताण्डव से विन्ध्यनगर थाना क्षेत्र के श्रमिक कैम्प के एक श्रमिक की मौत हो गयी. जबकि दूसरा घायल हो गया है.

तूफान के इस ताण्डव से ऊर्जाधानी के सैकड़ों मकान जमीदोज हो गये हैं. हजारों की संख्या में पेंड़-पौधे जड़ से उखड़ गये और भारी संख्या में पक्षियों के मारे जाने की खबर है. वहीं मूसलाधार बारिश से ऊर्जाधानी तर-बतर हो गयी.

बुधवार-गुरूवार की दरमियानी रात आये भयावह तूफान व तेज चमक-गरज के साथ मूसलाधार बारिश ने जन-जीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया. करीब एक घण्टे तक तूफान व बारिश का कहर जारी था, इस कहर से विन्ध्यनगर के ढोंटी में लल्लाराम शाह पिता रामचरित्र ग्राम हर्रहवा उम्र 55 वर्ष की मौत हो गयी.

वहीं दूसरा श्रमिक घायल हो गया. इधर देवसर, चितरंगी, सरई, बैढऩ अंचल के सैकड़ों मकान के छज्जे उड़ गये. कईयों मकानों के ऊपर पेंड़ गिरने से जमीदोज हो गये हैं. साथ ही टै्रक्टर, जेसीबी मशीन भी पेंड़ों के चपेट में आ गये हैं. इतना ही नहीं सैकड़ों की संख्या में पक्षियों के मारे जाने की खबर है. ग्रामीण अंचल देवसर, चितरंगी, सरई, माड़ा में विद्युत आपूर्ति 24 घण्टे से ठप है. बैढऩ शहर में 8 घण्टे बाद बिजली आपूर्ति बहाल हो पायी.