chinaबीजिंग, चीन के नौसेना प्रमुख एडमिरल वू शेंगली ने कहा है कि वह दक्षिण चीन सागर में अमेरिकी युद्धपोत के प्रवेश को लेकर ‘बेहद चिंतितÓ हैं. उनकी टिप्पणी विवादास्पद क्षेत्र में अमेरिका के गाइडेड मिसाइल विध्वंसक पोत के गश्त करने के दो दिन बाद आई है. यदि नहीं माने तो चीन सैन्य कार्रवाई के लिए अटैक कर सकता है.

अमेरिकी समकक्ष एडमिरल जॉन रिचर्डसन के साथ वीडियो कान्फ्रेंस में एडमिरल वू ने कहा, ‘इस तरह की खतरनाक और भड़काऊ कार्रवाई ने चीन की संप्रभुता और सुरक्षा को खतरा तथा क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता को नुकसान पहुंचाया है.’ वू ने चेतावनी दी कि यदि अमेरिका अपनी जिद पर अड़ा रहता है और चीन की चिंता की अनेदखी करता है तो चीन अपनी संप्रभुता और सुरक्षा की खातिर सभी आवश्यक कदम उठाएगा. केंद्रीय सैन्य आयोग के सदस्य वू ने कहा कि मंगलवार को अमेरिका के गाइडेड मिसाइल विध्वंसक यूएसएस लैसेन ने चीन के बार-बार के विरोध के बावजूद और चीन सरकार की अनुमति लिए बिना झुबी रीफ के नदजीक जलक्षेत्र में प्रवेश किया था. चीन-अमेरिका संबंधों की बड़ी तस्वीर पर विचार करते हुए चीनी नौसेना के पोतों ने कई बार अमेरिकी विध्वंसक को चेतावनी दी थी.

Related Posts:

अफगान जेल पर तालिबानियों के हमले में 11 लोगों की मौत, 400 कैदी भागे
भारत ने धमकाया तो खामोश नहीं बैठेगा पाकिस्तान
इथोपिया में हिंसक झड़प में 100 लोगों की मौत
कैमरून ट्रेन दुर्घटना : मृतकों की संख्या बढ़कर 55 हुई
दक्षिण कोरिया में राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान शुरु
चीन-पाक-अफगान के विदेश मंत्रियों की बैठक बीजिंग में