शासन के सौतेले व्यवहार का विरोध

भोपाल,

म.प्र. राज्य निगम-मंडल अधिकारी, कर्मचारी समन्वय महासंघ के प्रांताध्यक्ष अजय श्रीवास्तव ‘नीलू’, सेमी गवर्नमेंट एम्पलाईज फेडरेशन एम.पी. के प्रांताध्यक्ष अनिल बाजपेयी, महामंत्री चंद्रशेखर परसाई, गजेंद्र कोठारी, ठाकुर बलवंत सिंह रघुवंशी, श्याम सुंदर शर्मा ने बताया कि प्रदेश के निगम-मंडलों के कर्मचारियों व अधिकारियों को सातवां वेतनमान प्रदान किये जाने के संबंध में म.प्र. शासन द्वारा सौतेला व्यवहार किये जाने के विरोध में रणनीति तैयार करने हेतु 23 जनवरी को रैली आयोजित की गई है.

प्रदेश में 29 निगम, 11 नगर निगम, 18 मंडी बोर्ड, 13 अकादमी, परिषद 15, सहकारी समितियां, संघ, 22 विश्वविद्यालय हैं. जिनमें लगभग 2 लाख अधिकारी, कर्मचारी कार्यरत् हैं. शासन के सौतेले व्यवहार के चलते कई निगम, मंडलों, समितियों में राज्य कर्मचारियों के अनुरूप आज तक भी पांचवां, छठवां वेतनमान लागू नहीं हो पाया है.

इसी को लेकर 23 जनवरी को पर्यावास भवन में विशाल रैली निकाली जावेगी, जिसमें प्रदेश के निगम, मंडल, बोर्ड, परिषद्, सहकारी संस्थाएं के कर्मचारी, अधिकारी भाग लेंगे.

शिव प्रतिमा को सौंपा मांग पत्र

शास. औपचारिकेत्तर शिक्षा संघ के अनुदेशक, पर्यवेक्षकों के प्रतिनिधि मंडल द्वारा राज्य शिक्षा केन्द्र पर तीसरे दिन भी धरना जारी रहा. आज के धरने में सीहोर, राजगढ़, शाजापुर, विदिशा, भोपाल के पदाधिकारी उपस्थित रहे एवं राज्य शिक्षा केंद्र परिसर में बने शिव मंदिर में पूजा-पाठ किया तथा अपना मांग पत्र शिव प्रतिमा को सौंपा. उक्त जानकारी संघ के अध्यक्ष डॉ. रमेश द्विवेदी, गिरजाशंकर तिवारी, दीनदयाल सोनी, मर्सरत कुरैशी आदि ने दी.

Related Posts: