नई दिल्ली,

कांग्रेस महासचिव (संगठन और प्रशिक्षण) अशोक गहलोत ने कहा है कि पार्टी का फैलाव और कार्यकर्ताओं को हर चुनौती का सामना करने के लिये प्रशिक्षित करना उनकी पहली प्राथमिकता होगी।

श्री गहलोत ने आज यूनीवार्ता से बातचीत में कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी चाहते हैं कि पार्टी का संगठन और कार्यक्रम बूथस्तर तक पहुंचे। इसलिये उनकी प्राथमिकता बूथ स्तर तक संगठन काे मजबूत बनाने की होगी। कार्यकर्ताओं के लिये प्रशिक्षण शिविर आयोजित किये जायेंगे।

राजस्थान के दो बार मुख्यमंत्री रहे श्री गहलोत को कल ही श्री जनार्दन द्विवेदी के स्थान पर संगठन और प्रशिक्षण का प्रभार सौंपा गया है। माना जा रहा है कि गुजरात विधानसभा के पिछले चुनाव में पार्टी के अच्छे प्रदर्शन को देखते हुये उन्हें यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी गयी। इन चुनावों के समय वह गुजरात के प्रभारी महासचिव थे।

श्री गहलोत ने कहा कि श्री गांधी पार्टी को नये तरीके से आगे बढ़ाना चाहते हैं और उनका लक्ष्य संगठन को मजबूत करना है। इसलिये राज्यों के लिये चार चार सचिवों की नियुक्त की जा रही है।

कर्नाटक विधानसभा चुनाव की ओर ध्यान दिलाये जाने पर उन्होंने कहा कि चुनावाें का दौर तो पूरे साल चलता रहता है। उन्होंने कहा कि चुनावों की तैयारी चलती रहेगी पर उनका ध्यान संगठन को मजबूत करने और कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करने पर रहेगा।

श्री गहलोत ने कहा कि जो जिम्मेदारी उन्हें सौंपी गयी है वह उनके लिए सम्मान की बात है और वह पूरी निष्ठा के साथ अपने काम को पूरा करेंगें। उन्होंने टवीट् कर कहा“ प्रभारी महासचिव( संगठन और प्रशिक्षण) की नई जिम्मेदारी ….. यह वाकई मेरे लिए सम्मान की बात है और मैं पूरी लगन तथा निष्ठा के साथ अपनी इस जिम्मेदारी को पूरा करूंगा तथा पार्टी को मजबूत बनाने की दिशा में प्रयत्नशील रहूंगा। मैं श्री गांधी का आभारी हूं।”

Related Posts: