नयी दिल्ली,

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पद्मावत फिल्म के खिलाफ प्रदर्शन को देखते हुए सिनेमाघरों के आसपास सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम किये गये हैं।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि राजधानी के कई इलाकों में कल हुए प्रदर्शन को देखते हुए सुरक्षा चाक चौबंद की गयी है। यहां के कई सिनेमा घरों के बाहर कल रात से ही भारी संख्या में पुलिस बल तैनात हैं।

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में कल कई जगहों पर करणी सेना के समर्थकों ने आगजनी की और बसों में तोड़फोड़ की। दिल्ली के रोहिणी इलाके में कुछ लोगों ने फिल्म के विरोध में सड़क जाम किया तथा वहां खड़े वाहनों के शीशे तोड़ दिये।

गुरुग्राम में एक स्कूल बस में जा रहे बच्चों पर भी प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया। चार राज्यों मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात और गोवा में मल्टीप्लैक्स मालिक इस फिल्म को रिलीज नहीं कर रहे हैं।

करणी सेना के भारी विरोध प्रदर्शनों के बीच आज संजय लीला भंसाली की चर्चित फिल्म पद्मावत सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। इस फिल्म को पिछले साल दिसंबर में रिलीज होनी थी, लेकिन करणी सेना के भारी विरोध और सेंसर बोर्ड द्वारा सर्टिफिकेट देने में देरी के कारण इसकी रिलीज बढ़ा दी गई थी।

बाद में सेंसर बोर्ड की सलाह पर इस फिल्म का नाम पद्मावती से बदलकर पद्मावत कर दिया गया था।
फिल्म की रिलीज को देखते हुए करणी सेना ने आज देशभर में बंद का आह्वान किया है, हालांकि दक्षिण भारत और महाराष्ट्र तथा पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों में फिल्म की रिलीज में कोई दिक्कत नहीं है।

Related Posts: