मेलबोर्न,

कैरोलीन वोज्नियाकी ने रोमांचक खेल के बाद बेल्जियम की एलिस मर्टेंस को हराकर करियर में पहली बार आस्ट्रेलियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश कर लिया।

वोज्नियाकी ने मर्टेंस को 6-3, 7-6 से हराया जो किसी ग्रैंड स्लेम के फाइनल में पहुंचने वाली बेल्जियम की पहली महिला खिलाड़ी हैं।डेनमार्क की खिलाड़ी पहली बार मेलबोर्न फाइनल में पहुंची हैं।उन्होंने पहले सेट में आसान जीत के बाद दूसरे सेट में कुछ संघर्ष किया।

दूसरी बार मेलबोर्न पार्क में महिला एकल सेमीफाइनल खेल रहीं वोज्नियाकी ने 5-4, 30-0 के स्कोर से बढ़त के बाद डबल फाल्ट कर दिया जिससे 22 साल की विपक्षी खिलाड़ी को वापसी का मौका मिल गया।अपने करियर में मात्र पांचवां ग्रैंड स्लेम खेल रही मर्टेंस ने इसका पूरा फायदा उठाया और कई विनर्स लगाये तथा पूर्व नंबर वन खिलाड़ी की सर्विस भी ब्रेक की।

वर्ष 2011 में ली ना के खिलाफ सेमीफाइनल से उलट इस बार वोज्नियाकी ने संयम के साथ वापसी की और दोनों मैच अंक बचाते हुये बेहतरीन सर्विस की।चार ड्यूस के बाद 27 वर्षीय डेनमार्क की खिलाडी ने फोरहैंड के साथ टाईब्रेक जीता।वह यहां अपने पहले खिताब के लिये अब रोमानिया की सिमोना हालेप या एंजेलिक केर्बर में अन्य सेमीफाइनल की विजेता से भिड़ेंगी।

Related Posts: