लाहौर,

पाकिस्तान के गृहमंत्री एवं पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के वरिष्ठ नेता एहसान इकबाल अब खतरे से बाहर हैं। आधिकारिक सूत्रों ने इसकी पुष्टि की है।

पाकिस्तान के उप गृह मंत्री तलाल चौधरी ने कहा, “श्री इकबाल सौभाग्य से बच गये है। अल्लाह का शुक्रिया, वह अब खतरे से बाहर हैं।”

पुलिस ने कहा है कि श्री इकबाल को दायें हाथ में गोली लगी थी। पुलिस ने संदिग्ध हमलावर को पिस्तौल के साथ गिरफ्तार कर लिया था। संदिग्ध हमलावर का नाम अबिद हुसैन (21) है। नरोवाल के पुलिस प्रमुख इमरान ने रायटर को बताया, “मैं सुरक्षा कारणों से इस समय आपको हमले के उद्देश्य की जानकारी नहीं दे सकता।”

नरोवाल जिले के उपायुक्त की शुरुआती रिपोर्ट में कहा गया है कि हमलावर को संबंध तहरीक-ए-लब्बैक पार्टी से उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। पार्टी पाकिस्तान के ‘अल्लाह की निंदा’ कानून को मजबूती से लागू करना चाहती है जिसमें मौत की सजा का प्रावधान है। रिपोर्ट में हालांकि हमले की वजह साफ नहीं हो पायी है।

‘अल्लाह की निंदा’ पाकिस्तान में काफी गंभीर विषय है और पिछले साल तहरीक-ए-लब्बैक पार्टी के उद्भव के बाद से यह और भी पेचिदा बन गया है। पीएमएल-एन के कई समर्थक मानते है कि पार्टी ‘ईशनिंदा’ कानून को लचीला बनाना चाहती है। इससे संबंधित कई मामलों में पिछले दशकों में किसी को भी मौत की सजा नहीं दी गयी है।

Related Posts:

पाक के लिए भारत से संबंध नहीं बिगाड़ेगा चीन
विश्व के 100 प्रभावशाली हस्तियों में राजन,सानिया और प्रियंका शामिल
रुस ने सोयूज राॅकेट का प्रक्षेपण किया
एनएसजी पर समर्थन के लिये विदेश सचिव की चीन की गुप्त यात्रा
म्यांमार में हिंसा रोकने की मांग करें सुरक्षा परिषद : प्रमिला
उत्तर कोरिया ने बातचीत का निमंत्रण स्वीकारा