इस्लामाबाद,

पाकिस्तान सरकार ने संयुक्त राष्ट्र की ओर से सूचीबद्ध आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए कुख्यात आतंकवादी हाफिज सईद से संबंधित दो धर्मार्थ संगठनों पर आधिकारिक रूप से प्रतिबंध लगा दिया है।यह जानकारी आज एक अधिकारी ने दी।

हाफिज सईद के बारे में अमेरिका का कहना है कि 2008 के मुम्बई हमलों के पीछे उसी का हाथ था।इस हमले में 166 लोग मारे गए थे।

पाकिस्तान सरकार ने यह कदम काले धन को वैध बनाने पर नजर रखने वाले वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (एफएटीएफ) की प्रमुख बैठक से पहले उठाया है।
इस बैठक में अमेरिका द्वारा प्रायोजित उस प्रस्ताव पर विचार किया जाएगा, जिसमें पाकिस्तान का नाम आतंकवाद का वित्त पोषण रोकने में विफल रहने वाले देशों की सूची में डालने की बात है।

पाकिस्तान के पंजाब सूबे के कानून मंत्री राणा सनाउल्ला ने कहा कि गृह मंत्रालय ने इस सप्ताह जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत के खिलाफ अधिसूचना जारी की है।सनाउल्ला ने रायटर को बताया, “ हमें गृह मंत्रालय से हिदायत मिली है और उसके अनुसार हाफिज सईद और उसके जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत जैसे धर्मार्थ संगठनों के पाकिस्तान में संचालन पर रोक लगा दी गई है।”

उन्होंने बताया कि निर्देशों के अनुसार, हमने जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत से जुड़ी सभी सुविधाओं, कार्यालयों, स्कूलों, दवाखानों पर नियंत्रण लेने का कार्य शुरू किया जा चुका है।