ईडी के सामने पेश नहीं हुए नीरव मोदी, एजेंसी ने नया समन किया जारी

नई दिल्ली,

पंजाब नेश्नल बैंक (पीएनबी) ने फर्ज़ीवाड़ा मामले में नीरव मोदी के वकील विजय अग्रवाल द्वारा आंकड़ो को लेकर दी जा रही सफाई पर प्रतिक्रिया दी है.

पीएनबी ने कहा कि रिकवरी के बाद हमारे पास पर्याप्त मात्रा में धन और संपत्ति जमा हुई है और क़ानूनन हम हर्जाना की रकम वसूल सकते हैं. हमने इस संदर्भ में अनुशासनात्मक प्राधिकरण को ख़त लिखा है और उनके जवाब का इंतज़ार कर रहे हैं. इससे पहले नीरव मोदी के वकील विजय अग्रवाल ने 11,500 के आंकड़ों को गलत बताते हुए कहा कि लोन 280 करोड़ रुपये का लिया गया था.

नीरव मोदी गुरुवार को ईडी के समक्ष पेश नहीं हुए. ऐसे में ईडी ने नीरव मोदी के खिलाफ नया समन जारी किया है. सूत्रों ने कहा कि अस्थायी रूप से पासपोर्ट को निलंबित किए जाने और लंबित कारोबारी मामलों में व्यस्तता को नीरव ने अपने पेश नहीं होने की वजह बताया है. अब मोदी को 26 फरवरी को मुंबई में केंद्रीय जांच एजेंसी के समक्ष पेश होने को कहा गया है.

ईडी और आई-टी के छापे जारी

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की छापेमारी जारी रही. ईडी ने मुंबई में चार शेल कंपनियों समेत देशभर में 17 जगहों पर तलाशी ली. वहीं, आयकर विभाग ने इसी मामले में अपनी जांच के तहत 145 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्तियां कुर्क कीं जबकि ईडी ने बुधवार को 10 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्तियां जब्त कीं.

ताजा जब्ती के साथ ईडी द्वारा अब तक जब्त किए गए रत्न एवं सोने के आभूषणों का कुल मूल्य 5,736 करोड़ रुपये हो गया है. इस तरह पीएनबी फ्रॉड केस में ईडी और इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से कुल मिलाकर 5581.74 करोड़ रुपये की संपत्तियां जब्त की जा चुकी है.

नीरव की 9 महंगी कारें जब्त

गुरुवार को ईडी ने नीरव और उनकी कंपनियों की 9 महंगी आलीशान कारों को जब्त किया. इन कारों में करीब 6 करोड़ रुपये की रोल्ज रॉयल गोस्ट भी शामिल है. इससे पहले मंगलवार को सीबीआई ने मुंबई स्थित अलीबाग में 27 एकड़ में बने नीरव मोदी के आलीशन फॉर्म हाउस को भी खंगाला था.

नीरव मोदी की जिन लग्जूरिअस कारों को ईडी ने जब्त किया, उनमें एक रोल्ज रॉयस गोस्ट, दो मर्सेडीज बेंज़ जीएल 350 सीडीआईएस, एक पोर्शे पनामेरा, 3 होंडा कारें, एक टोयोटा फॉर्च्यूनर और एक टोयोटा इनोवा शामिल हैं.

रोल्ज रॉयस कार की कीमत करीब 6 करोड़ रुपये बताई जा रही है. इसके अलावा, ईडी ने नीरव मोदी के 7.80 करोड़ रुपये की कीमत वाले म्यूचुअल फंड और शेयर भी फ्रीज़ कर दिए हैं. मेहुल चौकसी ग्रुप से जुड़े 86.72 करोड़ रुपये के शेयर और म्यूचुअल फंड भी ईडी ने फ्रीज़ किए हैं.

Related Posts: