मुंबई,

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में 177 करोड़ डॉलर (तकरीबन 11,420 करोड़ रुपये) के फर्जी तथा अनधिकृत लेनदेन का मामला सामने आने से बैंकिंग क्षेत्र पर बने दबाव के कारण आज शेयर बाजारों में गिरावट रही।

बीएसई का सेंसेक्स 0.42 प्रतिशत यानी 144.52 अंक लुढ़ककर 34,155.95 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 0.37 प्रतिशत यानी 38.85 अंक टूटकर 10,500.90 अंक पर बंद हुआ।

पीएनबी ने आज बताया कि उसकी मुंबई स्थित एक शाखा में फर्जी तथा अनधिकृत लेनदेन का मामला पाया है जिसमें कुछ चुनिंदा खाताधारकों को लाभ पहुँचाने की कोशिश की गयी है।ऐसा लगता है कि इन लेनदेन के रिकॉर्ड के आधार पर विदेशों में कुछ बैंकों ने उन्हें ऋण दिया है।उसने बताया कि इन लेनदेन की कुल राशि 177.17 करोड़ डॉलर है।

इस घोषणा के बाद बैंकिंग क्षेत्र का सूचकांक 1.62 प्रतिशत तथा पीएसयू का सूचकांक 1.80 प्रतिशत गिर गया।

बीएसई में पीएबी के शेयर 9.81 प्रतिशत टूटे और वह सबसे ज्यादा नुकसान उठाने वाली कंपनी रही।एनएसई में उसके शेयर 10.39 फीसदी टूटे और उसने दूसरा सबसे बड़ा नुकसान उठाया।बीएसई में जिन छह कंपनियों के शेयर सबसे ज्यादा टूटे उनमें पाँच बैंकिंग क्षेत्र की हैं।बैंक ऑफ इंडिया के शेयर 7.87 प्रतिशत, इलाहाबाद बैंक के 7.79 प्रतिशत, ओबीसी के 7.43 प्रतिशत और केनरा बैंक के 5.82 प्रतिशत टूटे हैं।

बैंकिंग पर दबाव के बीच मझौली और छोटी कंपनियों में लिवाली रही।बीएसई का मिडकैप 0.17 प्रतिशत चढ़कर 16,881.48 अंक पर और स्मॉलकैप 0.16 प्रतिशत चढ़कर 18,492.69 अंक पर पहुँच गया।