डीआईजी ने मीटिंग में अधिकारियों को दी हिदायत

भोपाल,

लगातार सामने आ रही चोरी व नकवजनी की घटनाओं को लेकर डीआईजी धर्मेंद्र चौधरी ने पुलिस कंट्रोल रूम में क्राइम मीटिंग आयोजित कर अपराधों पर अंकुश लगाने के निर्देश दिए.

उन्होंने कहा कि हर थाने की पुलिस शाम के समय भ्रमण करे और अधिकारी संभाग स्तर पर रात के समय संयुक्त चैकिंग करें. नगर और रक्षा समिति के सदस्यों को भी उन्होंने पूरी तरह से सक्रिय करने के निर्देश दिए. बैठक में एसपी साउथ राहुल लोढ़ा, पुलिस अधीक्षक उत्तर हेमंत चौहान, पुलिस अधीक्षक मुख्यालय राजेश चंदेल एवं समस्त एएसपी, नगर पुलिस अधीक्षक व थाना प्रभारी उपस्थित थे.

अपराधों की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि सूचीबद्व बदमाशों के विरूद्व जिला बदर की कार्रवाई करें, चिंह्ति बदमाशों की लगातार निगरानी और प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करने के साथ स्थानीय बांरटी की तामीली सुनिश्चित करें.

डीआईजी ने तीन माह से अधिक लंबित अपराध के निराकरण की व पूर्व लंबित अपराधों के निराकरण के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि जो प्रकरण तकनीकी कारणों से लंबित हैं, उनकी समीक्षा पुलिस अधीक्षक दक्षिण एवं पुलिस अधीक्षक उत्तर करेंगे.

शक्ति स्क्वॉड की प्रशंसा

डीआईजी धर्मेंद्र कुमार चौधरी ने कहा कि शक्ति स्क्वॉड द्वारा अच्छा कार्य किया जा रहा है. प्रतिदिन एएसपी अपने क्षेत्र में लक्ष्य देकर कार्य कराएं एवं पुलिस अधीक्षक समय समय पर दो या चार स्क्वॉड को एक साथ चैकिंग हेतु लगाएं, जिससे छेडख़ानी व गुंडागर्दी की घटनाओं पर रोक लग सके.

Related Posts: