• दहेज नहीं, योग्यता देखकर पसंद करें लडक़ा
  • प्रजापति समाज का परिचय सम्मेलन संपन्न

भोपाल,

प्रजापति समाज द्वारा आज आयोजित परिचय सम्मेलन में युवक-युवतियों ने बेहिचक अपनी पसंद का इजहार किया. श्रीराम मंदिर प्रजापति समाज ट्रस्ट चांदबड में आयोजित सम्मेलन में 500 से अधिक युवक युवतियों ने मंच पर आकर विवाह के लिए अपना परिचय दिया.

समाज के अध्यक्ष भंवरलाल प्रजापति ने बताया कि यह प्रजापति समाज का पांचवा सम्मेलन है इसका उद्देश्य समाज को एकजुट करने के साथ एक ही जगह पर सामाजिक बंधुओं को योग्य वर वधु तलाशने में मदद करना है. सम्मेलन में आए पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, पूर्व मंत्री एनपी प्रजापति, माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष रामदयाल प्रजापति और चांदला विधायक आरडी प्रजापति तथा संगठन मंत्री राधेश्याम प्रजापति ने वैवाहिक वेब पोर्टल प्रजापति मंथन और युवक युवती परिचय स्मारिका का विमोचन किया.

इसके बाद युवतियों ने बेझिझक मंच पर आकर अपने जीवन साथी के बारे में अपनी पसंद बताई . उज्जैन से आई फैशन टैकनालाजी की छात्रा वंदना प्रजापति ने कहा कि हमे ऐसा जीवन साथी चाहिए जो विवाह के बंधन को समझ सके और ससुराल वाले बहु को बेटियों की तरह रखकर स्वतंत्र निर्णय लेने दे. जाब को लेकर प्रतिबंध न हो बल्कि वे हमारी योग्यता को देखकर हमारा सपोर्ट करें.

भिंड से आए शिवराज सिंह ने कहा कि उन्हे ऐसी जीवनसाथी की तलाश है जो मर्यादा में रहकर घर परिवार के कामों में हाथ बटाए वहीं मुकेश प्रजापति ने कहा कि युवक युवतियों को समाज में अपनी पसंद से शादी करने का अधिकार रहे रिश्ते को जबरन ना थोपा जाए. शादी के पहले लडक़ा और लडक़ी एक दूसरे की पसंद और नापसंद को समझे उसके बाद ही रिश्ते की बात आगे बढे तो ज्यादा बेहतर होगा. सम्मेलन में 5 हजार से ज्यादा सामाजिक बंधु शामिल हुए.

बेझिझक किया अपनी पसंद का इजहार

इसी तरह अन्य लडकियों ने भी अपनी पसंद बताकर कहा कि उनका होने वाला जीवन साथी भले ही सरकारी या प्रायवेट जॉब हो लेकिन वह आत्मनिर्भर हो. बाबई से आई ज्योति प्रजापति का कहना था कि मुझे ऐसा जीवन साथी चाहिए जो मेरे माता पिता का सम्मान करें वो दहेज के लिए नही बल्कि मेरी योग्यता देखकर मुझसे शादी करे.

वर पक्ष के लोग सोचते हैं लडके की पढाई में जो पैसा लगा है शादी के वक्त दहेज के रुप में वह वापस मिल जाए यह सोच उन्हें बदलनी पडेगी. दहेज के बिना जो मुझे पसंद करेगा मै उससे शादी करना पसंद करुंगी.

वहीं रीवा से अपने ननंद के लिए नंदोई तलाशने आई नवविवाहिता सरोज चक्रवर्ती का कहना था कि घर में बहुओ को भी बेटियों के समान सम्मान मिलना चाहिए मेरे ससुराल वाले मेरा हर जगह सपोर्ट करते है अभी मै एसआई पुलिसद्ध भर्ती की तैयारी कर रही हूं मेरे ससुराल वाले मुझे मोटिवेट करते है मै चाहती हूं कि मेरी नंनद को भी ऐसा ही परिवार मिले.

प्रजापति भवन की मांग

समाज के अध्यक्ष भंवर लाल प्रजापति और संगठन मंत्री राधेश्याम प्रजापति ने समारोह के मंच से प्रजापति समाज के भवन निर्माण के लिए सरकार से जमीन आवंटित करने की मांग की.

राधेश्याम का कहना है कि सरकार ने सभी समाज को भवन निर्माण के लिए जमीन आवंटित कर दी लेकिन प्रजापति समाज 50 सालों से जमीन आवंटित करने की मांग कर रहा है उसे अब तक जमीन आवंटित नही कि गई है उन्होने सरकार से जल्द से जल्द प्रजापति समाज को जमीन आवंटित करने की मांग उठाई.

Related Posts: