लोन पास कराने के नाम पर झटके तीन हजार

नवभारत न्यूज भोपाल,

सूखी सेवनियां थाना अंतर्गत एक ढावा संचालक के साथ लाखों की ठगी का मामला सामने आया है. आरोपी ने अपने आप को बैंक का अधिकारी बताकर लोन पास कराने की बात कही थी, जिसके चलते फरियादी झांसे में आ गया था. जब उसने बैंक में जाकर वस्तुस्थिति ली तो हकीकत सामने आ गई. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है.

मिली जानकारी के अनुसार दीपक मारन पिता भूरेलाल मारन उम्र 38 वर्ष गांधी नगर में रहते हैं. वे एक ढावे का संचालन करते हंै. पुलिस के मुताबिक इनके ढावे पर दो साल पहले प्रमोद विश्वकर्मा नाम के युवक ने आना जाना शुरू किया, कुछ समय बाद इनके बीच गहरी दोस्ती हो गई.

प्रमोद ने अपने आप को पीएनबी बैंक में एजीएम फंड के पद पर पदस्थ होने की बात बताते हुए कहा कि वह उसके ढावे के लिए लोन पास करा देगा. इसको लेकर फरियादी ने वर्ष 2016-2017 में 4 लाख 3 हजार रुपए दे दिए. काफी समय तक जब लोन स्वीकृत नहीं हुआ तो आरोपी ने कहा कि समय लगेगा, लोन पास हो जाएगा.

इसके बाद भी जब लोन पास नहीं हुआ तो फरियादी ने बैंक में जाकर जानकारी ली तो सामने आया कि उक्त नाम का कोई भी अधिकारी बैंक में नहीं है. इसके बाद फरियादी थाने पहुंचा और मामला दर्ज कराया. पुलिस का कहना है कि मामला दर्ज कर आरोपी की गिरफ्तारी के लिए प्रयास किए जा रहे हैं.