टैक्स चोरी की शिकायत मिलने पर की कार्रवाई

इंदौर,

शुक्रवार को आयकर विभाग ने भदौरिया ग्रुप पर छापेमार कार्रवाई की है. टीम ने ग्रुप के मेडिकल कॉलेज, होटल सहित कई स्थानों पर छापे मारे है. इंदौर सहित भिंड और ग्वालियर मे भी तलाशी ली जा रही है.

कार्रवाई को पूरी तरह से गोपनीय रखी गई है. बड़े पैमाने पर टैक्स चोरी की शिकायत मिलने के बाद विभाग ने कर चोरी से संबंधित सबूत जुटाने के बाद शुक्रवार को सर्वे की कार्रवाई को अंजाम दिया. कार्रवाई देर रात तक जारी रहने की संभावना है. सूत्रों के अनुसार इंदौर में ग्रुप के 15 ठिकानों के अलावा ग्वालियर, भिंड में भी कार्रवाई की जा रही है।

आयकर विभाग की टीम ने आज अलसुबह भदौरिया गु्रप के एबी रोड स्थित अमलतास होटल, इंडेक्स मेडिकल कॉलेज, अस्पताल व अन्य संस्थानों पर कार्रवाई की. कार्रवाई को गोपनीय रखा गया और एक साथ सभी स्थानों पर सर्वे शुरू किया गया.

अलग-अलग टुकडिय़ों में पुलिस के साथ पहुंचे आयकर अधिकारियों ने होटल व कॉलेज में जाते ही रास्ते बंद करवा दिए और स्टाफ को अंदर ही रोक लिया व पूछताछ शुरू कर दी. भदौरिया ग्रुप के चेयरमैन सुरेश भदौरिया द्वारा आयकर चोरी किए जाने की जानकारी अधिकारियों को मिल रही थी.

कार्रवाई के पहले ही अधिकारियों ने भदौरिया के खिलाफ सबूत जुटा लिए थे. उन्होंने देवास में भी अमलतास हॉस्पिटल और मेडिकल कॉलेज खोल रखा है. उल्लेखनीय है कि पीएमटी-2012 घोटाले में सीबीआई ने स्पेशल कोर्ट में 592 आरोपियों के खिलाफ 1500 पन्नों की चार्जशीट पेश की थी. जांच एजेंसी ने इंडेक्स मेडिकल कॉलेज के सुरेश भदौरिया समेत कुछ लोगों को आरोपी बनाया था.

इनकम टैक्स नहीं भरने पर व्यापारी गिरफ्तार

नोटबंदी के बाद आयकर विभाग ने टैक्स चोरी करने वालों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. शुक्रवार दोपहर आयकर विभाग के अधिकारियों ने इंदौर के व्यापारी प्रकाशचंद तलरेजा को गिरफ्तार कर लिया.

तलरेजा पर लगभग 98 लाख का आयकर बकाया था. व्यापारी ने कुछ समय तक तो टैक्स दिया लेकिन इसके बाद टैक्स देना बंद कर दिया. 2012 के बाद से उसने टैक्स नहीं भरा था. आयकर विभाग के मुताबिक उसके ऊपर लगभग 65 लाख रुपए का टैक्स बकाया था जो कि अब 98 लाख हो गया है. कई बार नोटिस देने के बाद भी जब व्यापारी ने जवाब नहीं दिया तो उसे वीर सावरकर नगर से गिरफ्तार कर लिया गया.

Related Posts: