मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तराना में 282 करोड़ के निर्माण कार्यों का भूमि पूजन एवं लोकार्पण किया

नवभारत न्यूज उज्जैन,

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि किसानों को उनकी फसल का उचित मूल्य दिलाने के लिये चलाई गई भावान्तर भुगतान योजना आज नहीं तो कल पूरे हिंदुस्तान में लागू होगी। इसमें समर्थन मूल्य व बिक्री मूल्य का अन्तर निकालकर किसानों के खाते में राशि अन्तरित की जा रही है। इससे जहां प्रशासनिक अमले को खरीदी के झंझटों से मुक्ति मिली है, वहीं किसानों के खाते में सीधा पैसा जा रहा है।

अकेले उज्जैन जिले में खरीफ  फ सल में लगभग 75 हजार किसानों के खातों में लगभग 80 करोड़ रूपये की भावान्तर राशि अन्तरित की जा रही है।मुख्यमंत्री ने कहा है कि किसानों के हित में जो भी करना पड़ेगा, उनकी सरकार करेगी। प्रदेश में पूर्व की सरकारों के समय मात्र साढ़े सात लाख हेक्टेयर में सिंचाई होती थी वहीं अब 40 लाख हेक्टेयर में सिंचाई की जा रही है।

सिंचाई का रकबा बढ़ा है और आगे भी बढ़ाना है। मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि तराना तहसील के प्रत्येक गांव के लिये सिंचाई की व्यवस्था की जायेगी। इसके लिये नर्मदा-गंभीर परियोजना से पानी लिया जायेगा। जो गांव बचेंगे, उनके लिये पृथक से योजना बनाई जायेगी। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने यह बात तराना में आयोजित विकास यात्रा एवं अन्त्योदय मेले के अवसर पर कही।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर 282 करोड़ रूपये की लागत के निर्माण कार्यों का भूमि पूजन/लोकार्पण किया। इसके पूर्व तराना के तिलभांडेश्वर मन्दिर के पास दशहरा मैदान में आयोजित अन्त्योदय मेले का शुभारम्भ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पं.दीनदयाल उपाध्याय के चित्र के संमुख दीप प्रज्वलन एवं माल्यार्पण कर किया।  इस अवसर पर ऊर्जा मंत्री पारस जैन, सांसद डॉ. चिन्तामणि मालवीय, डॉ.सत्यनारायण जटिया, महामण्डलेश्वर प्रकाशानन्द भारती, सहित गणमान्य अतिथि मौजूद थे।

इस अवसर पर सांसद डॉ. चिन्तामणि मालवीय ने कहा कि मुख्यमंत्री ने प्रदेश का अभूतपूर्व विकास किया है। म.प्र. में व्यक्ति के जन्म से लेकर वृद्धावस्था तक के लिये विभिन्न योजनाएं संचालित की जा रही हैं।

स्वागत भाषण में भावुक हुए स्थानीय विधायक – तराना में आयोजित अन्त्योदय मेले एवं विकास यात्रा के अवसर पर स्वागत भाषण विधायक अनिल फि रोजिया ने दिया। उन्होंने कहा कि सिंहस्थ के समय मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 150 करोड़ रूपये के कार्य स्वीकृत किये थे। विधायक ने कहा कि आज के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री द्वारा 282 करोड़ के निर्माण कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि पूजन किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री का स्नेह सदैव तराना विधानसभा क्षेत्र पर बना हुआ है। स्वागत भाषण देते समय विधायक अनिल फि रोजिया भावुक हो गये।282 करोड़ के निर्माण कार्यों का भूमि पूजन एवं लोकार्पण – मुख्यमंत्री द्वारा अन्त्योदय मेले में 282 करोड़ के निर्माण कार्यों का भूमि पूजन/लोकार्पण किया गया।

इसमें तनोडिय़ा से रामड़ी-शाजापुर रोड लागत 51.46 करोड रुपए, लक्ष्मीपुरा से रूपाखेड़ी वाया कनासिया रोड लागत 94.50 करोड़ रुपए, तराना से नजरपुर रोड लागत 33.02 करोड रूपये, एबी रोड कलमा से कायथा रोड लागत 43.91 करोड़ रूपए, नगरीय विकास एवं आवास विभाग द्वारा शहरी पेयजल योजना के अंतर्गत माकड़ोन नगर की पेयजल योजना लागत 17.33 करोड़ रुपए (लोकार्पण), मध्यप्रदेश ग्रामीण सडक़ विकास प्राधिकरण द्वारा 40 मुख्यमंत्री सडक़ों का डामरीकरण लागत 30.32 करोड़ रुपए और तराना नगर की पेयजल योजना लागत 11.97 करोड़ रुपए का भूमि पूजन व शिलान्यास शामिल है।

कार्यक्रम का संचालन शैलेन्द्र व्यास ने किया। इस अवसर पर मप्र खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष  सुरेश आर्य, फ ार्मेसी काउंसिल के अध्यक्ष ओम जैन, पूर्व विधायक  ताराचन्द मैकेनिक, शिवनारायण जागीरदार, श्याम बंसल, नगर पालिका अध्यक्ष उमेश शर्मा, जनपद अध्यक्ष श्रीमती सरोज ठाकुर, लक्ष्मण बड़ाल, संभागायुक्त  एमबी ओझा, एडीजी व्ही. मधुकुमार, डीआईजी डॉ.रमणसिंह सिकरवार, कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे एवं पुलिस अधीक्षक श्री सचिन अतुलकर मौजूद थे।हितग्राहियों को लाभान्वित किया – मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अन्त्योदय मेले में विभिन्न हितग्राहियों को प्रमाण-पत्र एवं चाबी सौंपी। मुख्यमंत्री ने भावान्तर भुगतान योजना के तहत कृषक मोतीसिंह पंवार ग्राम सालाखेड़ी को 77 हजार 36 रूपये, कु.पूर्वी शर्मा निवासी तराना को एक लाख 18 हजार रूपये का लाड़ली लक्ष्मी योजना के तहत राष्ट्रीय बचत-पत्र, ग्राम खातीखेड़ी के दिनेश जोशी एवं श्रीमती तेजकुंवर को एक लाख 20 हजार रूपये लागत से निर्मित प्रधानमंत्री आवास की चाबी सौंपी।

ग्राम दिलौद्री की श्रीमती सीताबाई को कृषि विभाग की योजना के अन्तर्गत ट्रेक्टर की चाबी सौंपी। नि:शक्त शिक्षा प्रोत्साहन योजना के तहत कु.मेघा एवं निर्मला को लेपटॉप तथा पशु चिकित्सा विभाग की योजना अन्तर्गत कड़ाई के कृषक गोविन्दसिंह एवं बालूसिंह आंजना को तीन लाख रूपये के ऋ ण प्रमाण-पत्र भेंट किये।

माकडोन को तहसील का दर्जा मिलेगा

मुख्यमंत्री ने  स्थानीय विधायक अनिल फिरोजिया की मांगों को मानते हुए माकड़ोन को तहसील का दर्जा देने की घोषणा की। इसके साथ ही क्षेत्र के 11 तालाबों का जीर्णोद्धार करने, घोंसला-करेड़ी माता-शाजापुर मार्ग को स्वीकृत करने, तराना शहर में आईटीआई खोलने, माकड़ोन की उप कृषि उपज मंडी को कृषि उपज मंडी का दर्जा देने, माकड़ोन कॉलेज में वाणिज्य संकाय प्रारम्भ करने, तराना कृषि उपज मंडी में अधोसंरचना विकास के लिये आवश्यक धनराशि स्वीकृत करने, बोरखेड़ी बांध योजना का परीक्षण करवाने, अभिभाषक संघ के भवन के लिये आवश्यक धनराशि स्वीकृत करने, ग्राम गोदड़ी, तेजलाखेड़ी, काथड़ी में पीने के पानी की समस्या दूर करने तथा एक हजार से अधिक आबादी के ग्रामों में मुख्यमंत्री पेयजल योजना स्वीकृत करने की घोषणा की।

Related Posts: